आयोडोफार्म  

आयोडोफार्म एक रासायनिक यौगिक है, इसके चमकदार पीले पत्राकार रवे (क्रिस्टल) होते हैं। इसमें विचित्र गंध होती है। यह पानी में कम घुलता है लेकिन ऐल्कोहल और ईथर में घुल जाता है। ऐल्कोहल या एसीटोन में थोड़ा सा आयोडीन और क्षार डालकर यह बनाया जा सकता है। इसका रासायनिक सूत्र CHI3 है। आयोडोफार्म का उपयोग चिकित्सा में कीटाणुनाशक गुणों के कारण घाव पर लगाने में होता था। लेकिन इसमें दुर्गंध होने के कारण अब इसके स्थान पर अन्य औषधियों का प्रयोग होने लगा है।[1]


पन्ने की प्रगति अवस्था
आधार
प्रारम्भिक
माध्यमिक
पूर्णता
शोध

टीका टिप्पणी और संदर्भ

  1. हिन्दी विश्वकोश, खण्ड 1 |प्रकाशक: नागरी प्रचारिणी सभा, वाराणसी |संकलन: भारत डिस्कवरी पुस्तकालय |पृष्ठ संख्या: 420 |

संबंधित लेख

वर्णमाला क्रमानुसार लेख खोज

                              अं                                                                                                       क्ष    त्र    ज्ञ             श्र   अः



"https://bharatdiscovery.org/bharatkosh/w/index.php?title=आयोडोफार्म&oldid=630936" से लिया गया