रूबिडियम  

रूबिडियम
सिलेटी-सफ़ेद
साधारण गुणधर्म
नाम, प्रतीक, संख्या रूबिडियम, Rb, 37
तत्व श्रेणी क्षार धातु
समूह, आवर्त, कक्षा 1, 5, s
मानक परमाणु भार 85.4678g·mol−1
इलेक्ट्रॉन विन्यास 1s2 2s2 2p6 3s2 3p6 3d10 4s2 4p6 5s1
इलेक्ट्रॉन प्रति शेल 2, 8, 18, 8, 1
भौतिक गुणधर्म
अवस्था ठोस
घनत्व (निकट क.ता.) 1.532 g·cm−3
तरल घनत्व
(गलनांक पर)
1.46 g·cm−3
गलनांक 312.46 K, 39.31 °C, 102.76 °F
क्वथनांक 961 K, 688 °C, 1270 °F
संकट बिंदु 2093 K, 16 MPa
संलयन ऊष्मा 2.19 किलो जूल-मोल
वाष्पन ऊष्मा 75.77 किलो जूल-मोल
विशिष्ट ऊष्मीय
क्षमता
31.060

जूल-मोल−1किलो−1

वाष्प दाब
P (Pa) 1 10 100 1 k 10 k 100 k
at T (K) 434 486 552 641 769 958
परमाण्विक गुणधर्म
ऑक्सीकरण अवस्था 1
क्षारकीय ऑक्साईड
इलेक्ट्रोनेगेटिविटी 0.82 (पाइलिंग पैमाना)
आयनीकरण ऊर्जाएँ 1st: 403 कि.जूल•मोल−1
2nd: 2632.1 कि.जूल•मोल−1
3rd: 3859.4 कि.जूल•मोल−1
परमाण्विक त्रिज्या 248 pm
सहसंयोजक त्रिज्या 220±9 pm
वैन्डैर वाल्स त्रिज्या 303 pm
विविध गुणधर्म
चुम्बकीय क्रम पराचुम्बकीय
वैद्युत प्रतिरोधकता (20 °C) 128 nΩ·m
ऊष्मीय चालकता (300 K) 58.2 W·m−1·K−1
ध्वनि चाल (पतली छड़ में) (20 °C) 1300 m.s-1
यंग मापांक 2.4 GPa
स्थूल मापांक 2.5 GPa
मोह्स कठोरता मापांक 0.3
ब्राइनल कठोरता 0.216 MPa
सी.ए.एस पंजीकरण
संख्या
7440-17-7
समस्थानिक
समस्थानिक प्रा. प्रचुरता अर्द्ध आयु क्षरण अवस्था क्षरण ऊर्जा
(MeV)
क्षरण उत्पाद
83Rb syn 86.2 d ε - 83Kr
γ 0.52, 0.53,
0.55
-
84Rb syn 32.9 d ε - 84Kr
β+ 1.66, 0.78 84Kr
γ 0.881 -
β 0.892 84Sr
85Rb 72.168% 85Rb 48 न्यूट्रॉन के साथ स्थिर
86Rb syn 18.65 d β 1.775 86Sr
γ 1.0767 -
87Rb 27.835% 4.88×1010 y β 0.283 87Sr

रूबिडियम (अंग्रेज़ी:Rubidium) आवर्त सारणी के प्रथम मुख्य समूह का चौथा तत्व है। रूबिडियम का संकेत Rb, परमाणु संख्या 37, परमाणु भार 85.47, गलनांक 38.9 सें., क्वथनांक 688 सें. तथा घनत्व 1.53 ग्राम प्रति घ. सेंमी.। इसमें धातुगुण वर्तमान हैं। इसके तीन स्थिर समस्थानिक प्राप्त हैं, जिनकी द्रव्यमान संख्याएँ क्रमश: 85, 86, 87 हैं। इस तत्व की खोज बुंसन तथा किर्खहॉफ़ ने 1860 ई. में स्पेक्ट्रमदर्शी द्वारा की थी। स्पेक्ट्रमदर्शी द्वारा प्रयोगों में दो नई लाल रेखाएँ मिलीं, जिनके कारण इसका नाम रूबिडियम रखा गया। लेपिडोलाइट अयस्क में रूबिडियम की मात्रा लगभग 1 प्रतिशत रहती है। इसके अतिरिक्त अभ्रक तथा कार्टेलाइड में भी यह न्यून मात्रा में मिलता है। पोटैशियम तथा रूबिडियम के प्लैटिनिक क्लोराइडों की विलेयता भिन्न भिन्न है, जिसके कारण इन दोनों को पृथक्‌ किया जा सकता है।

रूबिडियम के यौगिकों को कैल्सियम अथवा विद्युत्‌ द्वारा अपचयित कराकर धातु प्राप्त की जाती है। यह चमकदार धातु है। रूबिडियम की वायु में शीघ्र ऑक्सीकरण हो जाता है। यह जल का शीघ्रता से विघटन करता है। इसके लवण रंगहीन तथा जलविलेय हैं और इनके गुण प्राय: पोटैशियम लवणों से मिलते जुलते हैं।


पन्ने की प्रगति अवस्था
आधार
प्रारम्भिक
माध्यमिक
पूर्णता
शोध

टीका टिप्पणी और संदर्भ

बाहरी कड़ियाँ

संबंधित लेख

वर्णमाला क्रमानुसार लेख खोज

                              अं                                                                                                       क्ष    त्र    ज्ञ             श्र   अः



"https://bharatdiscovery.org/bharatkosh/w/index.php?title=रूबिडियम&oldid=240749" से लिया गया