वृद्धशर्मा  

वृद्धशर्मा का उल्लेख हिन्दू पौराणिक महाकाव्य 'महाभारत' में हुआ है, जिसके अनुसार यह सूर्यवंशी आयु तथा स्वर्भानु की कन्या के गर्भ से उत्पन्न पुत्र था।[1]

  • 'महाभारत आदिपर्व' में आयु के स्वर्भानुकुमारी के गर्भ से उत्पन्न पाँच पुत्रों के निम्नलिखित नाम दिये गए हैं[2]-
  1. नहुष
  2. वृद्धशर्मा
  3. रजि
  4. गय
  5. अनेना


टीका टिप्पणी और संदर्भ

  1. महाभारत शब्दकोश |लेखक: एस. पी. परमहंस |प्रकाशक: दिल्ली पुस्तक सदन, दिल्ली |संकलन: भारत डिस्कवरी पुस्तकालय |पृष्ठ संख्या: 101 |
  2. महाभारत आदि पर्व अध्याय 75 श्लोक 20-40

संबंधित लेख

वर्णमाला क्रमानुसार लेख खोज

                              अं                                                                                                       क्ष    त्र    ज्ञ             श्र   अः



"https://bharatdiscovery.org/bharatkosh/w/index.php?title=वृद्धशर्मा&oldid=552258" से लिया गया