उगमहल  

उगमहल बिहार प्रांत के राजमहल का मध्ययुगीन नाम है। मुग़ल बादशाह अकबर के मुख्य सेनापति राजा मानसिंह ने 1592 ई. में उगमहल के स्थान पर राजमहल को बसा कर उसे बंगाल प्रांत की राजधानी बनाया था।

इतिहास

उगमहल का प्राचीन नाम 'कजंगल' हुआ करता था। अकबर के वित्तमंत्री राजा टोडरमल के अभिलेखो में भी उगमहल का उल्लेख मिलता है। 1639 से 1600 ई. तक राजमहल में बंगाल के शासन की राजधानी रही थी। प्राचीन नगर के खंडहर 4 मील (लगभग 6.4 कि.मी.) पश्चिम की ओर हैं, जिनमें कई मुग़लकालीन प्रासाद और मस्जिदें हैं।


पन्ने की प्रगति अवस्था
आधार
प्रारम्भिक
माध्यमिक
पूर्णता
शोध

टीका टिप्पणी और संदर्भ

  • ऐतिहासिक स्थानावली | पृष्ठ संख्या= 86| विजयेन्द्र कुमार माथुर | वैज्ञानिक तथा तकनीकी शब्दावली आयोग | मानव संसाधन विकास मंत्रालय, भारत सरकार

संबंधित लेख

वर्णमाला क्रमानुसार लेख खोज

                              अं                                                                                                       क्ष    त्र    ज्ञ             श्र   अः



"https://bharatdiscovery.org/bharatkosh/w/index.php?title=उगमहल&oldid=627948" से लिया गया