महामस्तकाभिषेक  

महामस्तकाभिषेक जैन धर्म के महत्त्वपूर्ण धार्मिक उत्सवों में से एक है। यह उत्सव दक्षिण भारत के कर्नाटक राज्य में श्रवणबेलगोला में 12 वर्ष के अन्तराल पर आयोजित होता है।

  • श्रवणबेलगोला में जैन संत गोमतेश्वर बाहुबलि की 18 मीटर ऊँची एकाश्म मूर्ति स्थापित है।
  • बाहुबलि का अगला 'महामस्तकाभिषेक' आने वाले वर्ष 2018 में होगा।
  • यह अभिषेक जल, इक्षुरस, दूध, चावल का आटा, लाल चंदन, हल्दी, अष्टगंध, चंदन का चूरा, चार कलश, केसर वृष्टि, आरती, सुगंधित कलश, महाशांतिधारा एवं महाअर्घ्य के साथ भगवान नेमिनाथ को समर्पित किया जाता है।


पन्ने की प्रगति अवस्था
आधार
प्रारम्भिक
माध्यमिक
पूर्णता
शोध

टीका टिप्पणी और संदर्भ

संबंधित लेख

वर्णमाला क्रमानुसार लेख खोज

                              अं                                                                                                       क्ष    त्र    ज्ञ             श्र   अः



"https://bharatdiscovery.org/bharatkosh/w/index.php?title=महामस्तकाभिषेक&oldid=511527" से लिया गया