गोपाल सेन  

गोपाल सेन
गोपाल सेन
पूरा नाम गोपाल सेन
मृत्यु 29 सितंबर, 1944
सम्बंधित लेख आज़ाद हिन्द फ़ौज
अन्य जानकारी बर्मा में आजाद हिंद फौज सक्रिय थी, गोपाल सेन को उससे संपर्क स्थापित करने में सफलता मिल गई थी।
अद्यतन‎ 04:31, 10 मार्च-2017 (IST)

गोपाल सेन (अंग्रेज़ी: Gopal Sen, मृत्यु- 29 सितंबर, 1944) पश्चिम बंगाल के प्रसिद्ध क्रांतिकारी थे।[1]

परिचय

गोपाल सेन क्रांतिकारी दल के एक सक्रिय सदस्य थे और जिन दिनों बर्मा में आज़ाद हिन्द फ़ौज सक्रिय थी, गोपाल सेन को उससे संपर्क स्थापित करने में सफलता मिल गई थी। वह किसी बड़े षड़यंत्र की संरचना कर रहे थे; लेकिन पुलिस को उनकी गतिविधियों का पता चल गया।

मृत्यु

एक दिन कलकत्ता स्थित गोपाल सेन के मकान पर छापा मारा गया। वह छत के ऊपर पहुँच गए। पुलिस भी छत पर पहुँच गई। पुलिस ने गोपाल सेन को जीवित गिरफ्तार करना चाहा; पर वह उन लोगों के लिए अकेले ही भारी पड़ रहे थे। आखिर पुलिस के कुछ लोगों ने उन्हे पकड़कर तीन मंजिल मकान की छत से नीचे सड़क पर फेंक दिया। यह घटना 29 सितंबर, 1944 की है। उसी दिन गोपाल सेन की मृत्यु हो गई।


पन्ने की प्रगति अवस्था
आधार
प्रारम्भिक
माध्यमिक
पूर्णता
शोध

टीका टिप्पणी और संदर्भ

  1. गोपाल सेन (हिंदी) क्रांति 1857। अभिगमन तिथि: 10 मार्च, 2017।

संबंधित लेख

वर्णमाला क्रमानुसार लेख खोज

                              अं                                                                                                       क्ष    त्र    ज्ञ             श्र   अः



"http://bharatdiscovery.org/bharatkosh/w/index.php?title=गोपाल_सेन&oldid=587482" से लिया गया