मरुद्वृधा नदी  

Icon-edit.gif इस लेख का पुनरीक्षण एवं सम्पादन होना आवश्यक है। आप इसमें सहायता कर सकते हैं। "सुझाव"

मरुद्वृधा नदी पंजाब की एक नदी जिसका नामोल्लेख ऋग्वेद[1] में है।

  • 'इमं' में गंगे यमुने सरस्वति शुतुद्रि स्तोमं सचता परुप्ण्या असिवन्या मरुदवृधे वितस्तयार्जीकीये श्रृगुह्मा सुपोमया'।
  • श्रीमद्भागवत[2] में भी मरुदवृधा का विस्तता (झेलम) तथा, असिविनी' चिनाव के साथ उल्लेख है- चंद्रभागा मरुदवृधा विस्तता असिक्नी।
  • रेगोजिन'[3] इसे झेलम चिनाव की संयुक्त धारा का नाम मानते हैं।


पन्ने की प्रगति अवस्था
आधार
प्रारम्भिक
माध्यमिक
पूर्णता
शोध

टीका टिप्पणी और संदर्भ

  1. ऋग्वेद 10,75,5-6 (नदीसूक्त)
  2. श्रीमद्भागवत 5,19,18
  3. वैदिक इंडिया, पृष्ठ 451

बाहरी कड़ियाँ

संबंधित लेख

"http://bharatdiscovery.org/bharatkosh/w/index.php?title=मरुद्वृधा_नदी&oldid=289554" से लिया गया