शम्सुद्दीन मुजफ़्फ़र शाह  

शम्सुद्दीन मुजफ़्फ़र शाह अबीसीनिया का निवासी था। उसका मूल नाम सीदी बदर था, जो अपने सुल्तान की हत्या करके बंगाल का शासक बना था।

  • बंगाल में इलियास वंश के अंतिम शासक नासिरुद्दीन महमूद द्वितीय के राज्य काल में सीदी बदर उच्च पदाधिकारी बन गया था।
  • वर्ष 1490 ई. में अपने स्वामी नासिरुद्दीन महमूद द्वितीय की हत्या करके सीदी बदर स्वयं गद्दी पर बैठ गया।
  • गद्दी पर बैठने के बाद सीदी बदर ने शम्सुद्दीन मुजफ़्फ़र शाह की उपाधि धारण की।
  • शम्सुद्दीन मुजफ़्फ़र शाह एक अत्याचारी शासक सिद्ध हुआ, जिस कारण समूचे राज्य में अराजकता व्याप्त हो गई।
  • स्थिति असह्य हो जाने पर बंगाल के सरदारों ने उसके मंत्री अलाउद्दीन हुसैन के नेतृत्व में शम्सुद्दीन को 1493 ई. में लगभग चार महीने तक राजधानी गौड़ में घेरे रखा, परंतु इसी बीच उसकी मृत्यु हो गई।।[1]


पन्ने की प्रगति अवस्था
आधार
प्रारम्भिक
माध्यमिक
पूर्णता
शोध

टीका टिप्पणी और संदर्भ

  1. भारतीय इतिहास कोश |लेखक: सच्चिदानन्द भट्टाचार्य |प्रकाशक: उत्तर प्रदेश हिन्दी संस्थान |पृष्ठ संख्या: 444 |

संबंधित लेख

वर्णमाला क्रमानुसार लेख खोज

                              अं                                                                                                       क्ष    त्र    ज्ञ             श्र   अः



"https://bharatdiscovery.org/bharatkosh/w/index.php?title=शम्सुद्दीन_मुजफ़्फ़र_शाह&oldid=318267" से लिया गया