हुसैनशाह  

हुसैनशाह अहमदनगर का शहज़ादा था, जिसे विश्वासघाती वज़ीर फ़तह ख़ाँ ने वर्ष 1630 ई. में गद्दी पर बैठाया था।

  • हुसैनशाह के गद्दी पर बैठने के कुछ समय बाद ही 1631 ई. में मुग़लों ने अहमदनगर पर क़ब्ज़ा कर लिया।
  • शहज़ादा हुसैनशाह को बन्दी बनाकर ग्वालियर के क़िले में क़ैद कर दिया गया और साम्राज्य को मुग़ल साम्राज्य में मिला लिया गया।
  • पतन के साथ ही अहमदनगर की स्वतंत्रता भी समाप्त हो गई।


पन्ने की प्रगति अवस्था
आधार
प्रारम्भिक
माध्यमिक
पूर्णता
शोध

टीका टिप्पणी और संदर्भ

संबंधित लेख

वर्णमाला क्रमानुसार लेख खोज

                              अं                                                                                                       क्ष    त्र    ज्ञ             श्र   अः



"https://bharatdiscovery.org/bharatkosh/w/index.php?title=हुसैनशाह&oldid=327978" से लिया गया