इकौन  

  • इकौन ज़िला गोंडा उत्तर प्रदेश के सहेत-महेत[1]से चार मील उत्तर-पश्चिम की ओर एक ग्राम है।
  • चीनी पर्यटकों के अनुसार यह उसी स्थान के समीप है जहाँ पांच सौ जन्मांध व्यक्तियों ने बुद्ध की आत्मिक शक्ति से नेत्र-ज्योति प्राप्त की थी।
  • इन व्यक्तियों की इस स्थान पर गाड़ी हुई लकड़ियों से आप्त-नेत्रवन नामक एक विशाल वन ही उत्पन्न हो गया था।




टीका टिप्पणी और संदर्भ

  1. प्राचीन श्रावस्ती के खंडहर
  • ऐतिहासिक स्थानावली | पृष्ठ संख्या= 77| विजयेन्द्र कुमार माथुर | वैज्ञानिक तथा तकनीकी शब्दावली आयोग | मानव संसाधन विकास मंत्रालय, भारत सरकार

बाहरी कड़ियाँ

संबंधित लेख

वर्णमाला क्रमानुसार लेख खोज

                              अं                                                                                                       क्ष    त्र    ज्ञ             श्र   अः



"https://bharatdiscovery.org/bharatkosh/w/index.php?title=इकौन&oldid=627588" से लिया गया