ऊँचडीह  

ऊँचडीह
ऊँचडीह के अवशेष
विवरण ऊँचडीह एक ऐतिहासिक स्थल है, जहाँ पर प्राचीन अवशेष मिले हैं।
राज्य उत्तर प्रदेश
ज़िला इलाहाबाद
मार्ग स्थिति इलाहाबाद जंक्शन से लगभग 40 कि.मी. की दूरी पर स्थित है।
संबंधित लेख भयहरणनाथ धाम
भाषा हिंदी, अंग्रेजी
अन्य जानकारी यह गाँव ऊँचे और प्राचीन टीलो के लिए जाना जाता है
अद्यतन‎

ऊँचडीह तीर्थराज प्रयाग से लगभग 40 किमी दूरी पर उत्तर दिशा मे प्रतापगढ़ इलाहाबाद के जनपदीय सीमा पर स्थित एक ऐतिहासिक स्थान है, जो महाभारत कालीन बाबा भयहरणनाथ धाम के समीप है।

  • ऊँचडीह गाँव में पुरातात्विक महत्व के कई अवशेष पाए गए है, भग्न मूर्तियाँ, पत्थरों पर बनी प्राचीन कलाकृतियाँ तथा शिलाखंड प्रमुख है।
  • यहाँ के प्राप्त अवशेष महाभारत कालीनबौद्धकालीन प्रतीत होते है। प्राप्त अवशेष भग्न अवस्था में है।
  • पौराणिक व ग्रामवासियों के मान्यताओं के अनुसार, ऊँचडीह राक्षस बकासुर का एक निवास क्षेत्र था और बकासुर का वध महाबली भीम द्वारा भयहरणनाथ के निकट ऊँचडीह में हुआ था।



पन्ने की प्रगति अवस्था
आधार
प्रारम्भिक
माध्यमिक
पूर्णता
शोध

चित्र वीथिका

टीका टिप्पणी और संदर्भ


बाहरी कड़ियाँ

संबंधित लेख

वर्णमाला क्रमानुसार लेख खोज

                              अं                                                                                                       क्ष    त्र    ज्ञ             श्र   अः



"https://bharatdiscovery.org/bharatkosh/w/index.php?title=ऊँचडीह&oldid=628352" से लिया गया