पक्कनर अट्टम  

पक्कनर अट्टम केरल की एक ऐसी कला है, जिसे बुराई पर अच्छाई की जीत के रूप में बड़े गर्व के साथ प्रस्तुत किया जाता है।

  • ऐसी मान्यता है कि पक्कनर अपनी धर्मपत्नी के साथ हेसेस नाम की जगह पर जाता है, जहां पर वे दोनों ढोलक की विभिन्न थापों पर एक साथ नाचते हैं।
  • सामान्यतः इस कला का प्रदर्शन ओणम के त्योहार पर किया जाता है।


पन्ने की प्रगति अवस्था
आधार
प्रारम्भिक
माध्यमिक
पूर्णता
शोध

टीका टिप्पणी और संदर्भ

बाहरी कड़ियाँ

संबंधित लेख

वर्णमाला क्रमानुसार लेख खोज

                              अं                                                                                                       क्ष    त्र    ज्ञ             श्र   अः



"https://bharatdiscovery.org/bharatkosh/w/index.php?title=पक्कनर_अट्टम&oldid=633010" से लिया गया