कोतवाल  

कोतवाल मुग़लकालीन शासन व्यवस्था में एक उच्च अधिकारी होता था। इसकी नियुक्ति 'मीर आतिश' के अनुरोध पर केन्द्रीय सरकार करती थी।

  • यह नगर में घटने वाली समस्त घटनाओं के प्रति उत्तरादायी होता था।
  • अपराधियों को दण्ड देने में असमर्थ होने पर कोतवाल को हर्जाना भरना पड़ता था।


पन्ने की प्रगति अवस्था
आधार
प्रारम्भिक
माध्यमिक
पूर्णता
शोध

टीका टिप्पणी और संदर्भ

संबंधित लेख

वर्णमाला क्रमानुसार लेख खोज

                              अं                                                                                                       क्ष    त्र    ज्ञ             श्र   अः



"https://bharatdiscovery.org/bharatkosh/w/index.php?title=कोतवाल&oldid=523452" से लिया गया