मुंतख़ाब अत तवारीख़  

मुंतख़ाब अत तवारीख़ मुल्ला बदायूँनी द्वारा लिखित सबसे महत्त्वपूर्ण पुस्तकों में से एक है। इसका चुनाव इतिहास से किया गया था, जिसे अक्सर 'तारीख़े बदायूँनी' (बदायूँनी का इतिहास) भी कहा जाता है।

  • इस पुस्तक में मुस्लिमों के समय के भारत का इतिहास है।
  • 'मुंतख़ाब अत तवारीख़' में मुस्लिम धार्मिकों, चिकित्सकों, कवियों और विद्वानों पर अतिरिक्त खंड शामिल हैं।
  • मुग़ल बादशाह अकबर के धार्मिक नियमों की आलोचना किए जाने के कारण इस पुस्तक से विवाद का जन्म हुआ और 17वीं शताब्दी के आरंभ में जहाँगीर के शासनकाल तक इस पुस्तक को महत्त्व नहीं दिया गया।


पन्ने की प्रगति अवस्था
आधार
प्रारम्भिक
माध्यमिक
पूर्णता
शोध

टीका टिप्पणी और संदर्भ

संबंधित लेख

वर्णमाला क्रमानुसार लेख खोज

                              अं                                                                                                       क्ष    त्र    ज्ञ             श्र   अः



"https://bharatdiscovery.org/bharatkosh/w/index.php?title=मुंतख़ाब_अत_तवारीख़&oldid=349864" से लिया गया