जहानशाह  

जहानशाह मुग़ल बादशाह बहादुरशाह प्रथम (1707-1712 ई.) का चौथा पुत्र था। उसके अन्य तीन भाई थे- जहाँदारशाह, अजीमुश्शान और रफ़ीउश्शान

  • वर्ष 1712 ई. में बहादुरशाह प्रथम की मृत्यु होने पर उसके पुत्रों में उत्तराधिकार के लिए युद्ध हुआ।
  • संघर्ष में ज़ुल्फ़िक़ार ख़ाँ के सहयोग से जहाँदारशाह के अतिरिक्त बहादुरशाह प्रथम के अन्य तीन पुत्र आपस में संघर्ष के दौरान मारे गये।
  • विजय के पश्चात् 51 वर्ष की आयु में जहाँदारशाह 29 मार्च, 1712 को मुग़ल राजसिंहासन पर बैठा।


पन्ने की प्रगति अवस्था
आधार
प्रारम्भिक
माध्यमिक
पूर्णता
शोध

टीका टिप्पणी और संदर्भ

संबंधित लेख

वर्णमाला क्रमानुसार लेख खोज

                              अं                                                                                                       क्ष    त्र    ज्ञ             श्र   अः



"https://bharatdiscovery.org/bharatkosh/w/index.php?title=जहानशाह&oldid=595775" से लिया गया