मुम्बईया हिन्दी  

  • मुम्बईया हिन्दी मुम्बई में बोली जाती है।
  • इसका मूल आधार तो मानक हिन्दी है किंतु इस पर मराठी और गुजराती तथा राजस्थानी, अवधी, भोजपुरी आदि हिन्दी बोलियों का प्रभाव पड़ा है।
  • मुम्बईया हिन्दी किसी की मातृभाषा नहीं है।
  • यह मात्र सामान्य बोलचाल में प्रयुक्त होती है, लेखन या औपचारिक स्थितियों में नहीं।
  • यों अब फ़िल्मी हिन्दी में इसके प्रयोग अवश्य कभी- कभी मिल जाते हैं।
  • उसी प्रभाव से मुम्बई के लेखकों के कथा- साहित्य में भी से कहीं- कहीं पाया जा सकता है।
  • जगदम्बा प्रसाद दीक्षित का उपन्यास 'मुर्दाघर' तो मुख्यत: प्राय: इसी हिन्दी में लिखा गया है।
पन्ने की प्रगति अवस्था
आधार
प्रारम्भिक
माध्यमिक
पूर्णता
शोध

टीका टिप्पणी

संबंधित लेख

वर्णमाला क्रमानुसार लेख खोज

                              अं                                                                                                       क्ष    त्र    ज्ञ             श्र   अः



"http://bharatdiscovery.org/bharatkosh/w/index.php?title=मुम्बईया_हिन्दी&oldid=384927" से लिया गया