खोंड जाति  

Icon-edit.gif इस लेख का पुनरीक्षण एवं सम्पादन होना आवश्यक है। आप इसमें सहायता कर सकते हैं। "सुझाव"
खोंड जाति की महिला, उड़ीसा

खोंड जाति भारत के उड़ीसा राज्य की पहाड़ियों और जंगलों के निवासी है। खोंड को कोंड, कंध या कोंध भी कहलाते हैं।

  • इनकी संख्या अनुमानत: 8 लाख से अधिक है, जिनमें से लगभग 5 लाख 50 हज़ार द्रविड परिवार की कुई और उसकी दक्षिणी बोली कुवी बोलते हैं।
  • अधिकांश खोंड अब चावल की खेती करते हैं, लेकिन अब भी कुट्टिया खोंड जैसे ऐसे कुछ समूह हैं, जो झूम खेती पर निर्भर हैं।
  • खोंड कई शताब्दियों से पश्चिम, उत्तर और पूर्व की ओर के उड़िया भाषी और दक्षिण की ओर के तेलुगु भाषी समूहों के संपर्क में हैं।
  • कुछ हद तक उन्होंने अपने पड़ोसियों की भाषाएँ और प्रथाएँ अपना ली हैं; दूरस्थ वनों में केवल कुई बोली जाती है।
  • जाति, अस्पृश्यता और हिंदू देवी-देवताओं के बारे में ज्ञान संबंधी हिंदू प्रथाओं के पालन में एक समान क्रमिक परिवर्तन दिखाई देता है।
  • 20वीं शताब्दी के उत्तरार्ध में परसंस्कृतिग्रहण की प्रक्रिया तेज़ी से बढ़ी।


पन्ने की प्रगति अवस्था
आधार
प्रारम्भिक
माध्यमिक
पूर्णता
शोध


टीका टिप्पणी और संदर्भ

बाहरी कड़ियाँ

संबंधित लेख

वर्णमाला क्रमानुसार लेख खोज

                              अं                                                                                                       क्ष    त्र    ज्ञ             श्र   अः



"https://bharatdiscovery.org/bharatkosh/w/index.php?title=खोंड_जाति&oldid=592782" से लिया गया