गौड़ ब्राह्मण  

गौड़ ब्राह्मणों का नाम एक प्राचीन प्रांत के नाम पर पड़ा है। यह प्रांत अब[1] गौड़ नगर है, जो चिरकाल तक बिहार और बंगाल की राजधानी[2] रहा है।[3]

  • गौड़ ब्राह्मणों की उप-शाखाएं काफ़ी संख्या में हैं। उनमें से सर्वाधिक इस प्रकार हैं-
  1. गौड़ अथवा केवल गोड़
  2. आदि-गौड़
  3. शक्लावाला आदि-गौड़
  4. ओझा
  5. सांध्य गौड़
  6. चिंगला
  7. खांडेवाला
  8. दायमिया
  9. श्री-गौड़
  10. तम्बोली गौड़
  11. आदि-श्री गौड़
  12. गुर्जर गौड़
  13. टेक बड़ा गौड़
  14. चामर गौड़
  15. हरियाणा गौड़
  16. किरतनिया गौड़
  17. सुकुल गौड़


पन्ने की प्रगति अवस्था
आधार
प्रारम्भिक
माध्यमिक
पूर्णता
शोध

टीका टिप्पणी और संदर्भ

  1. भग्नावस्था में
  2. अंगों, बंगों की राजधानी
  3. जातिप्रथा का अभिशाप, भीमराव अम्बेडकर (हिन्दी) हिन्दी समय। अभिगमन तिथि: 21 अगस्त, 2014।

संबंधित लेख

वर्णमाला क्रमानुसार लेख खोज

                              अं                                                                                                       क्ष    त्र    ज्ञ             श्र   अः



"https://bharatdiscovery.org/bharatkosh/w/index.php?title=गौड़_ब्राह्मण&oldid=501506" से लिया गया