पश्चिमी ब्रेकी सेफल  

पश्चिमी ब्रैकीसेफल (Wesern Brachycephals)

पश्चिमी ब्रैकीसेफल की भी तीन शाखाएँ हैं -

  1. अल्पाइन (Alpine)
  2. दीनापक या डिनरिक (Dinaric)
  3. आर्मीनिया या आर्मिनॉयड (Anrmenien)
अल्पाइन
दीनापक या डिनरिक
आर्मीनिया या आर्मिनॉयड
  • इनकी तीसरी शाखा आर्मिनॉयड है, जो मुम्बई के पारसियों में देखने को मिलती है।
शारीरिक लक्षण

इनके शारीरिक लक्षण हैं - चौड़े कन्धे, गहरी छाती, लम्बी व चौड़ी टांगें, चौड़ा सिर, छोटी नाक, त्वचा का रंग पीला आदि।

विशेषताएँ

पश्चिमी ब्रेकीसेफल प्रजाति मध्य एशिया की पामीर पर्वतमाला तथा ईरान पठार से ईसा से 3000 वर्ष पूर्व भारत में आयी। ये लोग 'पिशाच' अथवा 'दरदभासा' परिवार की भाषा बोलते थे।


पन्ने की प्रगति अवस्था
आधार
प्रारम्भिक
माध्यमिक
पूर्णता
शोध


टीका टिप्पणी और संदर्भ

संबंधित लेख

वर्णमाला क्रमानुसार लेख खोज

                              अं                                                                                                       क्ष    त्र    ज्ञ             श्र   अः



"https://bharatdiscovery.org/bharatkosh/w/index.php?title=पश्चिमी_ब्रेकी_सेफल&oldid=499785" से लिया गया