उजलीवरण  

उजलीवरण गुजरात की एक जाति है। इस जाति में ब्राह्मण, बनिए, राजपूत, कारीगर, भाट और कुनबी आदि लोग शामिल किये जाते हैं।[1]

  • इस जाति के लोग प्राय: नगरों में ही निवास करते हैं।
  • कुनबी लोग अक्सर कृषि का धंधा करते और अधिकांशत: इसी पर निर्भर रहते हैं।
  • काली ब्रहवालों से उजलीवरण पृथक् हैं, लेकिन ये लोग कोलियों के साथ विवाह आदि संबंध स्थापित करते हैं।
  • उजलीवरण 'स्मार्त' हैं और वर्ण व्यवस्था में विश्वास रखते हैं।
  • 'विधवा विवाह' इनके यहाँ अवैध है और ये लगभग सभी हिंदू देवी-देवताओं की पूजा करते हैं।


पन्ने की प्रगति अवस्था
आधार
प्रारम्भिक
माध्यमिक
पूर्णता
शोध

टीका टिप्पणी और संदर्भ

  1. उजलीवरण (हिन्दी)। । अभिगमन तिथि: 04 फ़रवरी, 2014।

संबंधित लेख

वर्णमाला क्रमानुसार लेख खोज

                              अं                                                                                                       क्ष    त्र    ज्ञ             श्र   अः



"https://bharatdiscovery.org/bharatkosh/w/index.php?title=उजलीवरण&oldid=609792" से लिया गया