हजारा  

हजारा एक जातीय समुदाय है। इस समुदाय के लोग पाकिस्तान में रहते हैं। हजारा लोगों को चंगेज़ ख़ाँ का वंशज माना जाता है। इनकी भाषा फ़ारसी है।

  • हजारा लोग सुन्नी संप्रदाय को मानते हैं।
  • इन लोगों का ईरान से लगाव ज्यादा है, क्योंकि ईरान फ़ारसी भाषी देश है। इसके बावजूद 5-6 लाख हजारा लोग पाकिस्तान में रह रहे हैं।
  • अफ़ग़ान जनसंख्या में लगभग एक-चौथाई हिस्सा हजारा लोगों का है।
  • अफ़ग़ानिस्तान में संख्या की दृष्टि से सबसे ज्यादा पठान, फिर ताजिक और उसके बाद हजाराओं का नंबर आता है। ये लोग प्रायः मध्य अफ़ग़ानिस्तान के बामियान नामक इलाके में रहते हैं।
  • हजारा लोग बेहद ग़रीब हैं। वे काबुल, कंधार और हेरात जैसे शहरों में जाकर पठानों और ताजिकों के घरेलू नौकरों की तरह काम करते हैं। बहुत कम हजारा लोग शिक्षित हैं।


पन्ने की प्रगति अवस्था
आधार
प्रारम्भिक
माध्यमिक
पूर्णता
शोध

टीका टिप्पणी और संदर्भ

संबंधित लेख

वर्णमाला क्रमानुसार लेख खोज

                              अं                                                                                                       क्ष    त्र    ज्ञ             श्र   अः



"https://bharatdiscovery.org/bharatkosh/w/index.php?title=हजारा&oldid=622822" से लिया गया