एक्स्प्रेशन त्रुटि: अनपेक्षित उद्गार चिन्ह "०"।

गुरदीप सिंह

भारत डिस्कवरी प्रस्तुति
यहाँ जाएँ:भ्रमण, खोजें
गुरदीप सिंह
गुरदीप सिंह
पूरा नाम गुरदीप सिंह
जन्म 1 अक्टूबर, 1995
जन्म भूमि पंजाब
कर्म भूमि भारत
खेल-क्षेत्र भारोत्तोलन
प्रसिद्धि भारतीय भारोत्तोलक
नागरिकता भारतीय
कॉमनवेल्थ गेम्स बर्मिंघम, 2022 - 109+ कि.ग्रा. वर्ग - कांस्य
अन्य जानकारी राष्ट्रमंडल खेल, 2018 में गुरदीप सिंह ने स्नैच में 175 का सर्वाधिक भार उठाया तो वहीं क्लीन एंड जर्क में 207 का सर्वाधिक भार उठाया। उनका कुल स्कोर 207 रहा था।
अद्यतन‎

गुरदीप सिंह (अंग्रेज़ी: Gurdeep Singh, जन्म- 1 अक्टूबर, 1995, पंजाब) भारतीय भारोत्तोलक (वेटलिफ़्टर) हैं। उन्होंने बर्मिंघम, इंग्लैंड में आयोजित कॉमनवेल्थ गेम्स, 2022 में 109+ कि.ग्रा. वर्ग में कांस्य पदक जीता है। गुरदीप सिंह ने स्नैच में 167 और क्लीन एंड जर्क में 223 कि.ग्रा. समेत कुल 390 कि.ग्रा. वजन उठाया।

परिचय

गुरदीप सिंह का जन्म 1 अक्टूबर, 1995 को पंजाब में हुआ था। इस भारोत्तोलक ने विश्व भर में भारोत्तोलन में भारत का नाम रोशन किया है। गुरदीप ने भारोत्तोलन में तीन अलग-अलग स्तरों पर तीन रिकॉर्ड तोड़ने का कीर्तिमान बनाया है। उन्होंने राष्ट्रीय कोच विजय शर्मा से भारोत्तोलन का प्रशिक्षण प्राप्त किया है।

गुरदीप सिंह भारोत्तोलन में भारत का उभरता हुआ सितारा हैं। राष्ट्रीय स्तर पर तो उन्होंने दमदार खेल दिखाते हुए अपनी पहचान एक सफल और प्रतिभावान भारोत्तोलक के रूप में बनाई ही है। साथ ही उन्होंने भारत का प्रतिनिधित्व करते हुए कई अंतराष्ट्रीय स्तर की भारोत्तोलन प्रतियोगिताएं खेली और जीती हैं। गुरदीप सिंह भारोत्तोलन के 109+ कि.ग्रा. वर्ग में वेटलिफ्टिंग करते हैं।

उपलब्धियाँ

  • 12वें दक्षिण एशियाई खेल 2016 में गुरदीप सिंह ने भारोत्तोलन में रजत पदक अपने नाम किया था।
  • गुरदीप सिंह ने अमेरिका के अनाहिम में साल 2017 में संपन्न आईडब्लूएफ वर्ल्ड वेटलिफ्टिंग चैंपियनशिप्स में +105 कि.ग्रा. भार वर्ग में तीन नए सीनियर राष्ट्रीय रिकार्ड्स स्थापित किए थे।
  • साल 2017 की इस आईडब्लूएफ वर्ल्ड वेटलिफ्टिंग चैंपियनशिप्स में 388 कि.ग्रा. भार वर्ग (172+216) में गुरदीप ने भले ही 13वां स्थान हासिल किया, लेकिन स्नैच, क्लीन एंड जर्क और टोटल लिफ्ट में उन्होंने राष्ट्रीय रिकॉर्ड बनाए।
  • गुरदीप सिंह ने पुरुषों की सीनियर नेशनल वेटलिफ्टिंग चैंपियनशिप 2018 के अंतिम दिन +105 कि.ग्रा. वर्ग में स्वर्ण पदक जीतकर राष्ट्रीय रिकॉर्ड तोड़ा था।
  • भारतीय खिलाड़ी गुरदीप सिंह ने ऑस्ट्रेलिया के गोल्ड कोस्ट में आयोजित हुए 2018 कॉमनवेल्थ खेलों के पांचवें दिन भारोत्तोलन की 105 कि.ग्रा.ग्राम से ज्यादा भारवर्ग की स्पर्धा में चौथा स्थान हासिल किया था।
  • राष्ट्रमंडल खेल, 2018 में उन्होंने स्नैच में 175 का सर्वाधिक भार उठाया तो वहीं क्लीन एंड जर्क में 207 का सर्वाधिक भार उठाया। उनका कुल स्कोर 207 रहा था।

कॉमनवेल्थ गेम्स, 2022

गुरदीप सिंह, कॉमनवेल्थ गेम्स, 2022
  • गुरदीप सिंह की कॉमनवेल्थ गेम्स, 2022 में शुरूआत अच्छी नहीं रही। उन्होंने दूसरे प्रयास में 167 कि.ग्रा. उठाया, लेकिन तीसरे प्रयास में 173 कि.ग्रा. नहीं उठा सके। क्लीन एंड जर्क में उन्होंने 207 कि.ग्रा. के साथ शुरूआत की, लेकिन 215 कि.ग्रा. का दूसरा प्रयास नाकाम रहा। हालांकि, इसके बावजूद उन्होंने तीसरे प्रयास में वजन बढाकर 223 कि.ग्रा. किया और इसे सफलतापूर्वक उठाकर कांस्य पक्का किया।
  • पाकिस्तान के मुहम्मद नूह बट ने 405 कि.ग्रा. वजन उठाकर खेलों के नये रिकॉर्ड के साथ स्वर्ण पदक अपने नाम किया। न्यूजीलैंड के डेविड एंड्रयू को रजत पदक मिला, जिन्होंने 394 कि.ग्रा. वजन उठाया।
  • बर्मिंघम में वेटलिफ्टिंग के इस आखिरी इवेंट में गुरदीप की शुरूआत अच्छी नहीं रही थी। उन्होंने दूसरे प्रयास में 167 कि.ग्रा. उठाया लेकिन तीसरे प्रयास में 173 कि.ग्रा. नहीं उठा सके। क्लीन एंड जर्क में उन्होंने 207 कि.ग्रा. के साथ शुरूआत की लेकिन 215 कि.ग्रा. का दूसरा प्रयास नाकाम रहा। हालांकि, इसके बावजूद उन्होंने तीसरे प्रयास में वजन बढाकर 223 कि.ग्रा. किया और इसे सफलतापूर्वक उठाकर ब्रॉन्ज मेडल पक्का किया।


पन्ने की प्रगति अवस्था
आधार
प्रारम्भिक
माध्यमिक
पूर्णता
शोध

टीका टिप्पणी और संदर्भ

संबंधित लेख