एक्स्प्रेशन त्रुटि: अनपेक्षित उद्गार चिन्ह "०"।

श्रीहरि नटराज

भारत डिस्कवरी प्रस्तुति
यहाँ जाएँ:भ्रमण, खोजें
श्रीहरि नटराज
श्रीहरि नटराज
पूरा नाम श्रीहरि नटराज
जन्म 16 जनवरी, 2001
जन्म भूमि बैंगलौर, कर्नाटक
अभिभावक पिता- नटराज वेंकटरमन

माता- कल्याणी

कर्म भूमि भारत
खेल-क्षेत्र तैराकी (बैकस्ट्रोक)
पुरस्कार-उपाधि एकलव्य पुरस्कार (22 नवंबर, 2020 )
प्रसिद्धि भारतीय तैराक
नागरिकता भारतीय
क़द 6 फुट, 11 इंच
कोच निहार अमीन
अन्य जानकारी 2018 में श्रीहरि नटराज ने 56.71 सेकेंड का समय लेकर 100 मीटर बैकस्ट्रोक में एक और राष्ट्रीय रिकॉर्ड बनाया। श्रीहरि ने खेलो इंडिया यूथ गेम्स 2019 में कुल 7 स्वर्ण पदक जीते।
अद्यतन‎

श्रीहरि नटराज (अंग्रेज़ी: Srihari Nataraj, जन्म- 16 जनवरी, 2001, बैंगलौर) भारतीय तैराक हैं। वह पुरुषों के 100 मीटर बैकस्ट्रोक में अंतरराष्ट्रीय तैराकी के एफ़आईएनए ‘ए’ मानक के लिए अर्हता प्राप्त करने और ग्रीष्मकालीन ओलंपिक, 2020 (टोक्यो ओलम्पिक) के लिए सीधे प्रवेश अर्जित करने वाले सबसे कम उम्र के भारतीय पुरुष तैराक हैं। भारतीय तैराक श्रीहरि नटराज और माना पटेल का टोक्यो ओलंपिक में अभियान बिना पदक के ही थम गया। ये दोनों युवा तैराक अपनी-अपनी स्पर्धाओं के सेमीफाइनल के लिए क्वालीफाई करने में नाकाम रहे। ओलंपिक में पदार्पण कर रहे ये दोनों तैराक 100 मीटर बैकस्ट्रोक स्पर्धाओं में अपने निजी सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन की बराबरी करने में भी नाकाम रहे।

परिचय

श्रीहरि नटराज का जन्म मंगलवार, 16 जनवरी 2001 को हुआ था। श्रीहरि ने अपनी प्राथमिक और माध्यमिक शिक्षा के लिए दिल्ली पब्लिक स्कूल, बैंगलोर और जैन हेरिटेज स्कूल, बैंगलोर में भाग लिया। उन्होंने अपनी उच्च शिक्षा को आगे बढ़ाने के लिए खुद को श्री भगवान महावीर जैन कॉलेज, बैंगलोर में दाखिला लिया। श्रीहरि नटराज को बचपन से ही खेलने का बहुत शौक था और उन्होंने 2 साल की उम्र में तैराकी का अभ्यास करना शुरू कर दिया था। श्रीहरि ने अपनी किशोरावस्था में प्रवेश करने से पहले विभिन्न राष्ट्रीय और अंतर्राष्ट्रीय स्तर की तैराकी प्रतियोगिताओं में भाग लिया।[1]

एथलीट परिवार

श्रीहरि नटराज का जन्म एथलीटों के परिवार में हुआ था। उनके पिता, नटराज वेंकटरमन, बैंगलोर विश्वविद्यालय के क्रिकेटर थे। उनकी मां कल्याणी वॉलीबॉल खिलाड़ी थीं, जिन्होंने जूनियर नेशनल में तमिलनाडु का प्रतिनिधित्व किया था। उनके भाई, बालाजी नटराज भी एक तैराकी एथलीट हैं। श्रीहरि नटराज के चाचा क्रिकेट खिलाड़ी थे जो रणजी के लिए खेले थे और उनके पहले चचेरे भाई को राहुल द्रविड़ के साथ खेलने का अवसर मिला था।

प्रशिक्षण

श्रीहरि नटराज ने 2 साल की उम्र में तैराकी अभ्यास शुरू कर दिया था। वह इस कम उम्र में उनके लिए उपलब्ध हर संभव खेल की कोशिश कर रहे थे, लेकिन उनका झुकाव क्रिकेट के प्रति अधिक था। लेकिन नीले पानी के लिए उनका प्यार वस्तुतः तब शुरू हुआ जब वह अपने बड़े भाई को कुंड में अभ्यास करते हुए देखते थे। श्रीहरि ने 5 साल की उम्र में पहली बार तैराकी प्रतियोगिता में भाग लिया था श्रीहरि नटराज कोच एसी जयराजन के अधीन अभ्यास कर रहे थे, जिन्होंने इस कम उम्र में उनकी क्षमताओं को देखा और उन्हें पेशेवर प्रशिक्षण देने का सुझाव दिया। बाद में उन्हें मशहूर स्विमिंग कोच निहार अमीन की एकेडमी में शिफ्ट कर दिया गया। कुछ वर्षों के अभ्यास और एक सख्त आहार दिनचर्या ने उन्हें कई राज्य स्तरों और राष्ट्रीय स्तर की प्रतियोगिताओं में पदक जीतने में मदद की।[1]

कॅरियर

श्रीहरि नटराज ने 2015 में एशियन एज ग्रुप स्विमिंग चैंपियनशिप में अपना अंतरराष्ट्रीय पदार्पण किया, जहां उन्होंने 200 मीटर मेडले में 8 वां स्थान, 100 मीटर बैकस्ट्रोक में 6 वां और बैकस्ट्रोक में 200 मीटर का स्थान हासिल किया। श्रीहरि ने राष्ट्रीय जूनियर एक्वाटिक चैंपियनशिप 2017 में 100 मीटर बैकस्ट्रोक में अपना पहला राष्ट्रीय स्तर का स्वर्ण पदक 57.33 सेकंड के समय के साथ जीता। उसी वर्ष उन्होंने पुणे में आयोजित राष्ट्रीय जूनियर जलीय चैंपियनशिप में भाग लिया और प्रत्येक संबंधित मैच में 100 मीटर बैकस्ट्रोक, 50 मीटर बैकस्ट्रोक, 200 मीटर बैकस्ट्रोक और 200 मीटर फ्रीस्टाइल में स्वर्ण पदक जीतने में राष्ट्रीय रिकॉर्ड बनाए।

2018 में श्रीहरि नटराज ने 56.71 सेकेंड का समय लेकर 100 मीटर बैकस्ट्रोक में एक और राष्ट्रीय रिकॉर्ड बनाया। श्रीहरि ने खेलो इंडिया यूथ गेम्स 2019 में कुल 7 स्वर्ण पदक जीते। उन्होंने 4×100 मीटर फ्रीस्टाइल रिले टीम में एशियाई आयु समूह तैराकी चैंपियनशिप में अपना पहला अंतर्राष्ट्रीय स्वर्ण पदक जीता। 73वीं सीनियर नेशनल एक्वाटिक चैंपियनशिप में श्रीहरि ने 200 मीटर बैकस्ट्रोक और 100 मीटर बैकस्ट्रोक में अपना ही राष्ट्रीय रिकॉर्ड तोड़ा। 1 जुलाई 2021 को श्रीहरि ने एक ऐतिहासिक क्षण बनाया और रोम, इटली में सेटेकोली स्विम मीट में पुरुषों की 100 मीटर बैकस्ट्रोक टाइम ट्रायल में एफ़आईएनए “A” मानक योग्यता समय क्वालिफाई करने वाले सबसे कम उम्र के भारतीय तैराक बने और ग्रीष्मकालीन ओलम्पिक, 2020 (टोक्यो ओलंपिक) के लिए अपना सीधा टिकट अर्जित किया।[1]

ग्रीष्मकालीन ओलम्पिक, 2020

टोक्यो ओलम्पिक में भारतीय तैराक श्रीहरि नटराज और माना पटेल का अभियान शीघ्र ही थम गया। ये दोनों युवा तैराक अपनी अपनी स्पर्धाओं के सेमीफाइनल के लिए क्वालीफाई करने में नाकाम रहे। ओलंपिक में पदार्पण कर रहे ये दोनों तैराक 100 मीटर बैकस्ट्रोक स्पर्धाओं में अपने निजी सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन की बराबरी करने में भी नाकाम रहे। श्रीहरि पुरुष 100 मीटर बैकस्ट्रोक हीट में 54.31 सेकेंड के साथ छठे स्थान पर रहे। इस तैराक का निजी सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन 53.77 सेकेंड है जो उन्होंने इटली में सेते कोली ट्रॉफी के दौरान किया था और टोक्यो ओलंपिक के लिए क्वालीफाई किया था। श्रीहरि कुल 40 तैराकों में 27वें स्थान पर रहे। शीर्ष 16 तैराकों ने सेमीफाइनल में जगह बनाई थी।[2]

पदक

सोना
  • 2016: दक्षिण एशियाई जलीय चैंपियनशिप, कोलंबो, श्रीलंका में 100 मीटर बैकस्ट्रोक
  • 2016: दक्षिण एशियाई जलीय चैंपियनशिप, कोलंबो, श्रीलंका में 200 मीटर बैकस्ट्रोक
  • 2016: दक्षिण एशियाई जलीय चैंपियनशिप, कोलंबो, श्रीलंका में 4x 100 मीटर मेडले रिले
  • 2017: राष्ट्रीय जूनियर जलीय चैंपियनशिप, पुणे, भारत में 50 मीटर बैकस्ट्रोक
  • 2017: राष्ट्रीय जूनियर जलीय चैंपियनशिप, पुणे, भारत में 100 मीटर बैकस्ट्रोक
  • 2017: राष्ट्रीय जूनियर जलीय चैंपियनशिप, पुणे, भारत में 200 मीटर बैकस्ट्रोक
  • 2017: राष्ट्रीय जूनियर जलीय चैंपियनशिप, पुणे, भारत में 200 मीटर फ्रीस्टाइल
  • 2019: खेलो इंडिया यूथ गेम्स, पुणे, भारत में 50 मीटर फ्रीस्टाइल
  • 2019: खेलो इंडिया यूथ गेम्स, पुणे, भारत में 200 मीटर फ्रीस्टाइल
  • 2019: खेलो इंडिया यूथ गेम्स, पुणे, भारत में 50 मीटर बैकस्ट्रोक
  • 2019: खेलो इंडिया यूथ गेम्स, पुणे, भारत में 100 मीटर बैकस्ट्रोक
  • 2019: खेलो इंडिया यूथ गेम्स, पुणे, भारत में 200 मीटर बैकस्ट्रोक
  • 2019: खेलो इंडिया यूथ गेम्स, पुणे, भारत में 4×100 मीटर मेडले रिले
  • 2019: खेलो इंडिया यूथ गेम्स, पुणे, भारत में 4×100 फ्रीस्टाइल
  • 2019: 73वीं सीनियर नेशनल एक्वाटिक चैंपियनशिप, भोपाल, भारत में 100 मीटर बैकस्ट्रोक
  • 2019: 73वीं सीनियर नेशनल एक्वाटिक चैंपियनशिप, भोपाल, भारत में 200 मीटर बैकस्ट्रोक
  • 2020: उज़्बेकिस्तान ओपन एक्वाटिक चैंपियनशिप, ताशकंद, उज़्बेकिस्तान में 50 मीटर बैकस्ट्रोक
  • 2020: उज़्बेकिस्तान ओपन एक्वाटिक चैंपियनशिप, ताशकंद, उज़्बेकिस्तान में 100 मीटर बैकस्ट्रोक[1]
चांदी

2016: दक्षिण एशियाई जलीय चैंपियनशिप, कोलंबो, श्रीलंका में 50 मीटर बैकस्ट्रोक

पुरस्कार और सम्मान

22 नवंबर 2020 को श्रीहरि नटराज को तैराकी में उनके उत्कृष्ट प्रदर्शन के लिए 'एकलव्य पुरस्कार' से सम्मानित किया गया। 'एकलव्य पुरस्कार' देश की खेल हस्तियों को कर्नाटक सरकार द्वारा क्षेत्र के खेल में उनके उत्कृष्ट प्रदर्शन के लिए प्रदान किया जाता है। पुरस्कार विजेताओं को एक स्वर्ण ट्रॉफी और दो लाख रुपये के नकद पुरस्कार से सम्मानित किया जाता है।


पन्ने की प्रगति अवस्था
आधार
प्रारम्भिक
माध्यमिक
पूर्णता
शोध

टीका टिप्पणी और संदर्भ

संबंधित लेख