एक्स्प्रेशन त्रुटि: अनपेक्षित उद्गार चिन्ह "०"।

मनीष नरवाल

भारत डिस्कवरी प्रस्तुति
यहाँ जाएँ:भ्रमण, खोजें
मनीष नरवाल

मनीष नरवाल (अंग्रेज़ी: Manish Narwal, जन्म- 1 अक्टूबर, 2001) भारत के पैरा निशानेबाज़ हैं। ग्रीष्मकालीन पैरालम्पिक, 2020 (टोक्यो पैरालम्पिक) में मनीष नरवाल ने पी4 मिक्स्ड 50 मीटर पिस्टल एसएच-1 में स्वर्ण पदक जीता है। उन्होंने फाइनल में 218.2 स्कोर के साथ पहला स्थान हासिल किया।

  • मनीष नरवाल फुटबॉलर बनना चाहते थे लेकिन दिव्यांगता की चुनौतियां थीं, मगर ये चुनौतियां मनीष के एथलीट बनने के इरादे को डिगा नहीं सकी।
  • पिता और सहयोगियों की सलाह पर मनीष नरवाल ने 2016 में निशानेबाज़ी में करियर बनाने का फैसला किया।
  • उन्होंने हरियाणा के फरीदाबाद में निशानेबाज़ी करनी शुरू की। इसके बाद उन्होंने कभी पीछे पलटकर नहीं देखा।
  • मनीष नरवाल कई राष्ट्रीय और अंतरराष्ट्रीय प्रतिस्पर्धाओं में जीत हासिल कर चुके हैं।
  • साल 2020 में मनीष नरवाल को अर्जुन पुरस्कार से सम्मानित किया गया था।
  • मनीष नरवाल सोनीपत के रहने वाले हैं हालांकि वे उनके पिता दिलबाग सिंह काफी साल पहले फरीदाबाद में आकर रहने लगे थे।
  • साल 2018 में जकार्ता में हुए एशियाई खेलों में मनीष नरवाल ने10 मी. और 50 मीटर इवेंट में एक स्वर्ण और एक काँस्य पदक जीता था। 
  • उन्होंने सिडनी में 2019 विश्व चैंपियनशिप में अपने शानदार फॉर्म को दोहराया। उन्होंने जिन इवेंट्स में हिस्सा लिया, उनमें से तीन में काँस्य पदक अपने नाम किया।
  • साल 2021 पैराशूटिंग वर्ल्ड कप में 10 मीटर में विश्व रिकॉर्ड तोड़ते हुए 229.1 पॉइंट हासिल किए।


पन्ने की प्रगति अवस्था
आधार
प्रारम्भिक
माध्यमिक
पूर्णता
शोध

टीका टिप्पणी और संदर्भ