चेतन चौहान  

चेतन चौहान
चेतन चौहान
व्यक्तिगत परिचय
पूरा नाम चेतन प्रताप सिंह चौहान
जन्म 21 जुलाई, 1947
जन्म भूमि मेरठ, उत्तर प्रदेश
मृत्यु 16 अगस्त, 2020
मृत्यु स्थान गुरुग्राम, हरियाणा
खेल परिचय
बल्लेबाज़ी शैली दाहिने हाथ से
गेंदबाज़ी शैली राइट आर्म ऑफ स्पिन
टीम भारत
भूमिका सलामी बल्लेबाज
पहला टेस्ट 25 दिसम्बर, 1969 बनाम न्यूज़ीलैंड
आख़िरी टेस्ट 13 मार्च, 1981 बनाम न्यूज़ीलैंड
पहला वनडे 1 अक्टूबर, 1978 बनाम पाकिस्तान
आख़िरी वनडे 15 फ़रवरी, 1981 बनाम न्यूज़ीलैंड
कैरियर आँकड़े
प्रारूप टेस्ट क्रिकेट एकदिवसीय अन्तर्राष्ट्रीय प्रथम श्रेणी
मुक़ाबले 40 07 179
बनाये गये रन 2084 153 11143
बल्लेबाज़ी औसत 31.57 21.85 40.22
100/50 0/16 0/0 21/59
सर्वोच्च स्कोर 57 46 207
फेंकी गई गेंदें 174 0 3536
विकेट 02 - 51
गेंदबाज़ी औसत 53.00 - 34.13
पारी में 5 विकेट 0 - 1
मुक़ाबले में 10 विकेट 0 - 0
सर्वोच्च गेंदबाज़ी 1/4 - 6/26
कैच/स्टम्पिंग 38/- - 189/-
अन्य जानकारी चेतन चौहान ने भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के टिकट से 1991 में अमरोहा में चुनाव लड़ा और वे वहां से सांसद चुने गए थे।
चेतन प्रताप सिंह चौहान (अंग्रेज़ी: Chetan Pratap Singh Chauhan, जन्म- 21 जुलाई, 1947, मेरठ, उत्तर प्रदेश; मृत्यु- 16 अगस्त, 2020, गुरुग्राम, हरियाणा) भारतीय क्रिकेट खिलाड़ी थे। जिस तरह चेतन चौहान हमेशा अपने परिधानों को संभालते थे, उसी तरह वह अपना व्यवहार भी बेहद संतुलित रखते थे। एक खिलाड़ी के तौर पर उनकी पहचान भारत के पूर्व कप्तान सुनील गावस्कर के सलामी जोड़ीदार के रूप में होती रही है। चेतन चौहान ने भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के टिकट से 1991 में अमरोहा में चुनाव लड़ा था और वे वहां से सांसद चुने गए थे। भारत के इस पूर्व सलामी बल्लेबाज ने 40 टेस्ट मैचों में 2084 रन बनाए और उनका सार्वाधिक स्कोर 97 रहा।

परिचय

भूतपूर्व सलामी बल्लेबाज चेतन चौहान का जन्म 21 जुलाई, 1947 को ज़िला मेरठ, उत्तर प्रदेश में हुआ था। उन्होंने अपना कॅरियर एक क्रिकेटर के तौर पर शुरू किया था। सुनील गावस्कर के साथ उनकी जोड़ी बेहद लोकप्रिय थी। भारत के इस पूर्व सलामी बल्लेबाज ने 40 टेस्ट मैचों में 2084 रन बनाए और उनका सार्वाधिक स्कोर 97 रहा। इसके अलावा उन्होंने सात वन-डे अंतरराष्ट्रीय मैच भी खेले थे। कॅरियर में बिना शतक लगाए दो हजार रन बनाने वाले वह दुनिया के पहले क्रिकेटर थे।[1]

अर्जुन अवॉर्ड से सम्मानित हो चुके चेतन चौहान भारतीय क्रिकेट टीम के खिलाड़ी रहे। इसके अलावा वह 1991 से 1998 तक सांसद भी रहे। बीजेपी में शामिल होने के बाद वह यूपी की सरकार में सैनिक कल्याण, होमगार्ड्स, प्रांतीय रक्षक दल और नागरिक सुरक्षा मंत्री बने थे। चेतन चौहान उत्तर प्रदेश के अमरोहा से ही सांसद रहे। वर्तमान में वह अमरोहा की नोगांवा सहादात सीट से विधायक थे।[2]

राजनीतिक सफर

चेतन चौहान ने भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के टिकट से 1991 में अमरोहा में चुनाव लड़ा और वे वहां से सांसद चुने गए थे। इसके बाद एक बार फिर 1996 में भाजपा ने उन्हें इसी मैदान में चुनावी जंग के लिए उतारा, लेकिन इस बार वे हार गए थे। 1998 में चेतन चौहान एक बार फिर सांसद चुने गए थे। वहीं, साल 1999 और 2004 के लोकसभा चुनाव में भी उन्होंने अपनी किस्मत आजमाई, लेकिन हार का सामना करना पड़ा था। 

मृत्यु

चेतन चौहान का निधन दिल का दौरा पड़ने से 16 जुलाई, 2020 को गुरुग्राम, हरियाणा में हुआ। कोरोना से संक्रमित होने के बाद चेतन चौहान गुरुग्राम में मेदांता अस्पताल में भर्ती थे। उनकी किडनी ने काम करना बंद कर दिया था और फिर बाद में कई अंगों ने भी काम करना बंद कर दिया। वह अस्पताल में वेंटिलेटर पर थे। उत्तर प्रदेश सरकार में कैबिनेट मंत्री चेतन चौहान को 11 जुलाई, 2020 को कोरोना जांच में पॉजिटिव पाए जाने के बाद लखनऊ के संजय गांधी पीजीआई अस्पताल में भर्ती कराया गया था। 15 जुलाई, 2020 को उन्हें लखनऊ के पीजीआई से गुरुग्राम के मेदांता अस्पताल शिफ्ट किया गया था।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने चेतन चौहान के निधन पर दु:ख जताया। पीएम मोदी ने कहा, 'चेतन चौहान जी ने खुद को पहले एक शानदार क्रिकेटर और बाद में बेहतरीन राजनेता के रूप में साबित किया। उन्होंने जनसेवा के साथ-साथ यूपी में बीजेपी को मजबूत करने का काम किया। उनके निधन से काफी दु:ख हुआ। उनके परिवार को समर्थकों के प्रति संवेदना व्यक्त करता हूं'।

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने अपने बयान में कहा कि- 'उत्तर प्रदेश मंत्रिमंडल के मेरे वरिष्ठ सहयोगी और पूर्व क्रिकेटर चेतन चौहान जी नहीं रहे। यह मेरे मंत्रिमंडल के सहयोगियों के लिए और उत्तर प्रदेश के नागरिकों के लिए एक अपूरणीय क्षति है। वे जितने लोकप्रिय खिलाड़ी थे, उतने ही लोकप्रिय जननेता भी थे'। योगी आदित्यनाथ ने ट्वीट कर कहा, 'पूर्व अंतरराष्ट्रीय खिलाड़ी, मंत्रिमंडल में मेरे सहयोगी, श्री चेतन चौहान जी के असामयिक निधन का व्यथित कर देने वाला समाचार प्राप्त हुआ। प्रभु श्रीराम, श्री चौहान जी के परिजनों को इस अपार दु:ख को सहने की शक्ति एवं दिवंगत आत्मा को अपने श्री चरणों में स्थान प्रदान करें। ॐ शांति'।


पन्ने की प्रगति अवस्था
आधार
प्रारम्भिक
माध्यमिक
पूर्णता
शोध

टीका टिप्पणी और संदर्भ

  1. नहीं रहे यूपी के कैबिनेट मंत्री व पूर्व क्रिकेटर चेतन चौहान, 73 साल की उम्र में निधन (हिंदी) amarujala.com। अभिगमन तिथि: 17 अगस्त, 2020।
  2. योगी सरकार के मंत्री चेतन चौहान का निधन, कोरोना संक्रमण के बाद अस्पताल में थे भर्ती (हिंदी) navbharattimes.indiatimes.com। अभिगमन तिथि: 17 अगस्त, 2020।

संबंधित लेख

वर्णमाला क्रमानुसार लेख खोज

                              अं                                                                                                       क्ष    त्र    ज्ञ             श्र   अः



"https://bharatdiscovery.org/bharatkosh/w/index.php?title=चेतन_चौहान&oldid=648961" से लिया गया