देवदत्त  

देवदत्त बुद्ध के चचेरे भाई का नाम है। यह बुद्ध से बहुत जलता था और उनकी जान तक लेने को आतुर था। अंत में यह कोढ़ी होकर एक तालाब के कीचड़ में फंस कर मर गया था। [1]

संक्षिप्त परिचय

  • छठी शताब्दी, ई.पू. भारत बौद्ध भिक्षु, जिन्होंने जीवन की कड़ी आचार संहिता लागू कर के संघ (बौद्ध भिक्षुओं) में सुधार लाने का प्रयास किया, वह बुद्ध के संबधी थे।
  • ऐसा समझा जाता है कि देवदत्त गौतम के कार्यकाल के 20 वें वर्ष में आनंद के साथ, जो शायद उनके भाई थे, संघ में सम्मिलित हुए।
  • मगध के राजकुमार अजातशत्रु के साथ अपनी मित्रता घनिष्ठ होने के 15 वर्ष बाद देवदत्त ने संघ की औपचारिक बैठक में प्रस्ताव किया कि बुद्ध नेतृत्व छोड़कर उन्हें सौंप दें।
  • इस प्रकार इस प्रस्ताव को रद्द कर दिया गया और समझा जाता है कि देवदत्त ने आजातशत्रु को अपने वृद्ध पिता मगध के राजा बिम्बिसार को मार देने के लिए उकसाने की कामयाब कोशिश की और बुद्ध की हत्या करने के भी तीन असफल प्रयास किए-किराये के हत्यारे द्वारा, पर्वत से बुद्ध पर चट्टान गिराकर और सड़क पर भिक्षा एकत्रित करते समय उन पर पागल हाथी छोड़कर।
  • लोकप्रिय स्वीकृति भांपकर देवदत्त ने संघ के तपस्वियों के लिए और कड़े नियमों का प्रस्ताव किया, लेकिन प्रस्ताव पारित होने पर बुद्ध के 500 अनुयायियों को अलग होने के लिए उकसाया।
  • देवदत्त की गतिविधियों की कोई जानकारी नहीं है, लेकिन शायद उनका उल्लेख अंगुत्तरनिकाय (प्रमाणित गंथ) में 'गोतमक' के नाम से मिलता है, क्योंकि देवदत्त के परिवार का नाम, गोतम (गौतम) था।
  • चीनी यात्री ह्वेनसांग ने लिखा है कि बंगाल में 7वीं शताब्दी में मठों में भिक्षु देवदत्त के कुछ नियमों का पालन करते थे।  


पन्ने की प्रगति अवस्था
आधार
प्रारम्भिक
माध्यमिक
पूर्णता
शोध

टीका टिप्पणी और संदर्भ

  1. पुस्तक- पौराणिक कोश |लेखक- राणा प्रसाद शर्मा | पृष्ठ संख्या- 559

संबंधित लेख

बौद्ध धर्म शब्दावली

सुजीता सुमंत दर्शी विशाख विमल कीर्ति वज्राचार्य वज्रवाराही वज्र भैरव वज्रगर्भ वज्रकालिका महाप्रजापति मंडपदायिका भद्राकपिला ब्रह्मदत्ता पृथु भैरव पूर्ण मैत्रायणी पुत्र पूर्ण काश्यप पटाचारा नलक नदीकृकंठ नंदा (बौद्ध) धर्म दिन्ना धमेख द्रोणोबन देवदत्त दशबल दंतपुर थेरीगाथा त्रिरत्न त्रियान त्रिमुखी तनुभूमि ज्वलनांत जलगर्भ छंदक चातुर्महाराजिक चलासन चरणाद्री चक्रांतर चक्रसंवर गोपा खेमा खसर्प खदूरवासिनी क्रकुच्छंद केयुरबल कृष्ण (बुद्ध) कुशीनार कुलिशासन कुक्कुटपाद कुकुत्संद कुंभ (बौद्ध) किसा गौतमी काय आश्रव अंबपाली अव्याकृत धर्म अकुशलधर्म उत्पाद

वर्णमाला क्रमानुसार लेख खोज

                              अं                                                                                                       क्ष    त्र    ज्ञ             श्र   अः



"https://bharatdiscovery.org/bharatkosh/w/index.php?title=देवदत्त&oldid=622214" से लिया गया