आलार कलाम  

आलार कलाम (अंग्रेज़ी: Alara Kalama) बुद्ध के समकालीन एक दार्शनिक एवं योगी थे। वे सांख्य दर्शन के विशेषज्ञ थे। पालि ग्रन्थों के अनुसार वे गौतम बुद्ध के प्रथम गुरु थे। छ:वर्षों तक आलार कलाम के पास रहकर बुद्ध ने सांख्य मार्ग तथा समाधि मार्ग का उचित अध्ययन किया था।

  • गौतम बुद्ध के समय समाज में सांख्य दर्शन का काफी प्रभाव था और इससे बुद्ध भी काफी प्रभावित थे। उनकी भी इच्‍छा थी कि सांख्य दर्शन का अध्ययन करें। इसलिए वे वैशाली के आश्रम में जा पहुंंचे, जहाँ (गोंड़ी) धर्म के (आदिवासियों) के पहले धर्मगुरु (पारी कूपार लिंगो संस्थापक) के बारहवें गोंड़ी धर्म गुरु (उत्तराधिकारी) आलार कलाम लिंगो रहते थे।
  • आलार कलाम ने बुद्ध को न सिर्फ सांख्य दर्शन की शिक्षा दी, बल्कि उन्हें ध्यान मार्ग के सिद्धान्त तथा समाधि मार्ग का ज्ञान भी प्रदान किया।
  • स्वयं आलार कलाम भी ध्यानाचार्य के रूप में कौशल जनपद में प्रसिद्ध थे।
  • छ:वर्षों तक आलार कलाम के पास रहकर बुद्ध ने सांख्य मार्ग तथा समाधि मार्ग का उचित अध्ययन किया और इन पर दक्षता और प्रवीणता हासिल की।
पन्ने की प्रगति अवस्था
आधार
प्रारम्भिक
माध्यमिक
पूर्णता
शोध

टीका टिप्पणी और संदर्भ

संबंधित लेख

वर्णमाला क्रमानुसार लेख खोज

                              अं                                                                                                       क्ष    त्र    ज्ञ             श्र   अः



"https://bharatdiscovery.org/bharatkosh/w/index.php?title=आलार_कलाम&oldid=642188" से लिया गया