Makhanchor.jpg भारतकोश की ओर से आप सभी को कृष्ण जन्माष्टमी की हार्दिक शुभकामनाएँ Makhanchor.jpg

अजरबैजान  

अजरबैजान एक प्रदेश, जिसका कुछ भाग ईरान में और कुछ रूस में है। दोनों भाग एक ही नाम से जाने जाते हैं। अजरबैजान ईरान का उत्तर-पश्चिमी प्रांत है, जिसे रूसी भाग से आरस नदी अलग करती है। यह एक पठारी प्रदेश है, जिसकी ऊँचाई 4,000 फुट से कुछ अधिक और क्षेत्रफल लगभग 30,000 वर्ग मील है। इस प्रदेश का मुख्य नगर तेब्रिज है।[1]

  • अजरबैजान की घाटियाँ बहुत उपजाऊ हैं और इन्हीं में इस प्रदेश की मुख्य बस्तियाँ पाई जाती हैं।
  • गेहूँ, जौ, कपास, फल तथा तंबाकू यहाँ की मुख्य फ़सलें हैं।
  • जस्ता, गंधक, ताँबा, मिट्टी का तेल, विभिन्न रंग के संगमरमर इत्यादि खनिज पदार्थ भी यहाँ मिलते हैं।
  • इस ईरानी प्रांत में ईरानी, तुर्क, कुर्द, असीरी और अर्मोनी मुख्य जातियाँ निवास करती हैं।
  • अजरबैजान में तुर्की भाषा साधारणत: बोली जाती है। यहाँ के निवासी अच्छे सैनिक होते हैं।
  • 18,000 फुट ऊँचा ज्वालामुखी 'अराराट' इसी प्रदेश में स्थित है।
  • ऊरुमिदा की खारे जल की झील की द्रोणी (बेसिन) भी अजरबैजान में है।
  • द्वितीय विश्वयुद्ध के बाद अजरबैजान में विशेष राजनीतिक उथल-पुथल शुरू हो गई थी। सन 1945 में रूसी सेनाओं ने इस ईरानी प्रदेश पर अधिकार कर लिया था, किंतु बाद में फिर ईरान का अधिकार हो गया।
  • रूसी अजरबैजान आरस नदी के उत्तर तथा आर्मीनिया और जार्जिआ के पूर्व में स्थित है। इसका क्षेत्रफल 87,000 वर्ग कि. मी. है। यहाँ का जनतंत्रीय शासन रूस के जनतंत्र के अधीन है।


पन्ने की प्रगति अवस्था
आधार
प्रारम्भिक
माध्यमिक
पूर्णता
शोध

टीका टिप्पणी और संदर्भ

  1. अजरबैजान (हिन्दी)। । अभिगमन तिथि: 13 जून, 2014।

संबंधित लेख

वर्णमाला क्रमानुसार लेख खोज

                              अं                                                                                                       क्ष    त्र    ज्ञ             श्र   अः



"https://bharatdiscovery.org/bharatkosh/w/index.php?title=अजरबैजान&oldid=609688" से लिया गया