Makhanchor.jpg भारतकोश की ओर से आप सभी को कृष्ण जन्माष्टमी की हार्दिक शुभकामनाएँ Makhanchor.jpg

आरेकीपा  

आरेकीपा पेरू देश का तीसरा शहर तथा इसी नाम के प्रदेश की राजधानी है। यह समुद्रतल से 7,600 फुट की ऊँचाई पर बसा है और मोलेंडी बंदरगाह से 100 मील दूर है। यह रायोचीली नदी की घाटी में दोनों किनारे पर बसा है तथा इसके पास ही एलमिस्ती नामक ज्वालामुखी पर्वत (ऊँचाई 19,167 फुट) है। 1868 ई. के भूकंप में इस नगर को बहुत क्षति पहुँची। यह अपनी प्राकृतिक सुंदरता के लिए प्रसिद्ध है तथा गोरी स्पैनिश जातिवालों की यहाँ बस्तियाँ हैं। यहाँ की जलवायु शुष्क है। गर्मी में पाँच छह इंच वर्षा होती है। धार्मिक तथा व्यावसायिक दृष्टि से दक्षिणी पेरू का मुख्य केंद्र है। यहाँ का विश्वविद्यालय 1828 ई. में स्थापित हुआ था, जिसका नाम युनिवर्सिडैड नेशनल ड सैन आगस्टिन है। यहाँ ऊन साफ किया जाता तथा बाहर भेजा जाता है। यहाँ ऊन तथा कपास के सामान, चाकलेट और बिस्कुट के कारखाने, आटे की चक्कियाँ तथा मशीन बनाने के कारखाने हैं। पैन अमरीकी कंपनी के हवाई जहाज इसको लीमा, प्यूनो, मौलेंडो तथा अफ्रीका से संबद्ध करते हैं। यह अपने ठंडे तथा गर्म सोतों के लिए प्रसिद्ध है। 1970 ई. में इसकी आबादी 5,18,300 थी।[1]



पन्ने की प्रगति अवस्था
आधार
प्रारम्भिक
माध्यमिक
पूर्णता
शोध

टीका टिप्पणी और संदर्भ

  1. हिन्दी विश्वकोश, खण्ड 1 |प्रकाशक: नागरी प्रचारिणी सभा, वाराणसी |संकलन: भारत डिस्कवरी पुस्तकालय |पृष्ठ संख्या: 424 |

संबंधित लेख

वर्णमाला क्रमानुसार लेख खोज

                              अं                                                                                                       क्ष    त्र    ज्ञ             श्र   अः



"https://bharatdiscovery.org/bharatkosh/w/index.php?title=आरेकीपा&oldid=631019" से लिया गया