Makhanchor.jpg भारतकोश की ओर से आप सभी को कृष्ण जन्माष्टमी की हार्दिक शुभकामनाएँ Makhanchor.jpg

कज़ाकिस्तान  

कज़ाकिस्तान क्षेत्रफल के आधार पर विश्व का नौवाँ सबसे बड़ा देश है। यह यूरेशिया में स्थित है। सोवियत प्रशासन के दौरान यहाँ कई महत्वपूर्ण परियोजनाएँ संपन्न हुईं, जिसमें कई रॉकेटों के प्रक्षेपण से लेकर क्रुश्चेव का वर्ज़िन भूमि परियोजना शामिल हैं। देश की अधिकांश भूमि स्तेपी घास के मैदान, जंगल तथा पहाड़ी क्षेत्रों से ढकी है।

क्षेत्रफल तथा निवासी

कज़ाकिस्तान में गणतंत्र की स्थापना सन 1920 में हुई तथा सन 1936 में यह सोवियत संघ का एक अंग बन गया। इस गणतंत्र का क्षेत्रफल लगभग 27,15,100 वर्ग किलोमीटर है। लगभग 30 प्रतिशत जनसंख्या कज़ाकों की है। बहुत दिनों तक यहाँ के निवासी पशुपालन का कार्य करते थे तथा अपने पशुओं के झुंड को साथ लिए यायावर के रूप में घूमते तथा खेमों में रहा करते थे।[1]

भौगोलिक संरचना

यह राज्य पश्चिम में वोल्गा के निचले भाग से लेकर पूर्व में सीक्यांग की सीमा तक तथा उत्तर में ट्रांस साइबेरियन रेलवे से लेकर दक्षिण में तियेनशान पर्वत तक, एक बृहत वृक्षहीन मैदान के रूप में फेला हुआ है। यहाँ की जलवायु शुष्क और वनस्पति घास है।

कृषि

यहाँ की मुख्य नदियाँ सर दरिया, ईतिश, युराल, इलि तथ इशिम हैं। कृषि योग्य भूमि इस राज्य के केवल उत्तरी, पश्चिमी तथा दक्षिणी भागों में है। उत्तरी भाग के काली मिट्टी वाले क्षेत्र में अन्न, दक्षिणी क्षेत्र में कपास तथा अन्य औद्योगिक फ़सलें और तियेनशान पर्वत की तलहटी में फल उत्पन्न किए जाते हैं। इस राज्य की कृषि में निम्नलिखित फ़सलें मुख्य हैं-

  1. गेहूँ
  2. ज्वार
  3. चुकन्दर
  4. तंबाकू
  5. कपास
  6. धान

यहाँ के पशुधन में भेड़, लंबी सींग वाली गाय, घोड़ा तथा ऊँट उल्लेखनीय हैं।

खनिज सम्पदा

कज़ाकिस्तान खनिज संपत्ति की दृष्टि से सुसंपन्न है। ताँबा, सीसा, जस्ता, निकिल, क्रोमाइट, मैंगनीज़ तथा ऐंटिमोनी पर्याप्त मात्रा में उपलब्ध हैं। एंबा में खनिज तेल तथा कारागांडा में कोयले की अपार राशि है।

विकास

सोवियत संघ में सम्मिलित होने पर कज़ाकिस्तान के घास के मैदान में अनेक खानों, नगरों तथा कारखानों का विकास हुआ। अनेक रेलमार्ग भी बनाए गए, जिनका इस क्षेत्र के आर्थिक विकास में बहुत बड़ा हाथ है। द्वितीय विश्वयुद्ध से पूर्व के 15 वर्षों में 5,030 किलोमीटर लंबे रेलमार्गों का निर्माण हुआ। खाद्य संबंधी उद्योग बहुत विकसित हुए, जैसे- चीनी, मक्खन, आटा तथा मांस उद्योग और फल, सब्जी, मछली इत्यादि को डब्बों में निर्यातार्थ भरने का उद्योग। तंबाकू तथा चमड़े के उद्योग भी उल्लेखनीय हैं। राज्य का सबसे बड़ा औद्योगिक नगर बाल्कश है। आत्माअता इस राज्य की राजधानी तथा मुख्य सांस्कृतिक केंद्र है। अक्टूबर, 1917 की क्रांति के बाद राज्य में कई नहरें तथा बाँध बनाए गए और मरुभूमि का कुछ भाग कृषि योग्य भूमि में परिणत हो गया।


पन्ने की प्रगति अवस्था
आधार
प्रारम्भिक
माध्यमिक
पूर्णता
शोध

टीका टिप्पणी और संदर्भ

  1. कज़ाकिस्तान (हिन्दी)। । अभिगमन तिथि: 13 फ़रवरी, 2014।

संबंधित लेख

वर्णमाला क्रमानुसार लेख खोज

                              अं                                                                                                       क्ष    त्र    ज्ञ             श्र   अः



"https://bharatdiscovery.org/bharatkosh/w/index.php?title=कज़ाकिस्तान&oldid=609823" से लिया गया