Makhanchor.jpg भारतकोश की ओर से आप सभी को कृष्ण जन्माष्टमी की हार्दिक शुभकामनाएँ Makhanchor.jpg

किशिनेव  

किशिनेव मॉलदोवियन सोवियत समाजवादी संघ की राजधानी है। यह काड्री पठारी क्षेत्र में बिक नदी के किनारे ओडेसा-जास्सी को संबंधित करने वाले रेलमार्ग पर स्थित है। इसकी स्थापना सन 1436 में हुई थी। किशिनेव ईसाइयों का प्रसिद्ध तीर्थ स्थान है। यहाँ गंधक अधिक मात्रा में मिलता है। यहाँ पानी के झरने और आरोग्यशाला स्थित हैं।[1]

  • किशिनेव की स्थिति 46.59 उत्तरी अक्षांश तथा 28.52 पूर्वी देशांतर है।
  • इसके उपनगर क्षेत्र में विभिन्न फल, विशेषत: बेर, अंगूर तथा शहतूत आदि उत्पन्न होते हैं।
  • यहाँ पर अंगूर उगाने की शिक्षा देने की एक पाठशाला, जूते, विभिन्न औजार तथा खाद्य सामग्री तैयार करने के उद्योग-धंधे हैं।
  • किशिनेव के निकट बिक नदी की तटवर्ती पहाड़ियों पर एक उपनगर का विकास हुआ है।
  • द्वितीय महायुद्ध में यह नगर विनष्टप्राय हो गया था, परंतु अब इसका पुनर्निर्माण हो गया है।
  • रूस के इतिहास में इस नगर की ख्याति इस कारण है कि सुप्रसिद्ध कवि पुश्किन को यही निर्वासित किया गया था।


पन्ने की प्रगति अवस्था
आधार
प्रारम्भिक
माध्यमिक
पूर्णता
शोध

टीका टिप्पणी और संदर्भ

  1. किशिनेव (हिन्दी)। । अभिगमन तिथि: 22 मई, 2014।

संबंधित लेख

वर्णमाला क्रमानुसार लेख खोज

                              अं                                                                                                       क्ष    त्र    ज्ञ             श्र   अः



"https://bharatdiscovery.org/bharatkosh/w/index.php?title=किशिनेव&oldid=609700" से लिया गया