उत्खात भूमि  

उत्खात भूमि चिकनी मिट्टी से भरपूर प्राय: सूखा क्षेत्र होता है। इस प्रकार की भूमि में सामान्य रूप से गंभीर खड्ड, अवनालिकाएँ एवं अन्य प्रकार की स्थलाकृतियाँ पाई जाती हैं।

  • इन प्रकार के क्षेत्रों में सीधी ढालें, शिथिल शुष्क भूमि, चिकनी मिट्टी और गहरी बालू स्थानांतरित होती रहती है, जिससे इनके चारों ओर का वातावरण अन्य उपयोगों के लिए अनुपयुक्त हो जाता है।
  • उत्खात भूमि का क्षेत्र यद्यपि सूखा होता है, लेकिन वर्षा की तेज फुहार, वनस्पतियों की विरलता और मृदु अवसाद इन क्षेत्रों में बड़े पैमाने पर क्षरण का कारण सिद्ध होते हैं।
  • संयुक्त राज्य अमेरीका और कनाडा में उत्खात भूमि के क्षेत्र आसानी से देखे जा सकते हैं।


पन्ने की प्रगति अवस्था
आधार
प्रारम्भिक
माध्यमिक
पूर्णता
शोध

टीका टिप्पणी और संदर्भ

संबंधित लेख

वर्णमाला क्रमानुसार लेख खोज

                              अं                                                                                                       क्ष    त्र    ज्ञ             श्र   अः



"https://bharatdiscovery.org/bharatkosh/w/index.php?title=उत्खात_भूमि&oldid=286321" से लिया गया