गैलापैगस  

गैलापैगस प्रशांत महासागर में विषुवत रेखा पर स्थित ज्वालामुखी द्वीप समूह है, जिसमें 12 बड़े तथा कई सौ छोटे-छोटे द्वीप सम्मिलित हैं।[1]

  • ये द्वीप समूह इक्वेडोर देश के कोलन प्रांत के अंतर्गत हैं और प्रधान तट से 650 मील पश्चिम में हैं।
  • इन द्वीपों का कुल क्षेत्रफल लगभग 3,123 वर्ग मील है।
  • सबसे बड़ा ऐलबरमेल द्वीप है, जिसकी लंबाई लगभग 75 मील है।
  • गैलापैगस के ऐलबरमेल तथा चैथम द्वीप ही आबाद हैं। अन्य द्वीपों में इंडीफैटीगेबुल, जेम्स तथा नारबरो उल्लेखनीय हैं।
  • चैथम द्वीप पर स्थित सेंट क्रिस्टोबेल इस प्रदेश का मुख्य नगर है। 1535 ई. में टामस डी बरलांगा नामक स्पेन निवासी ने इस द्वीप समूह की खोज की थी।
  • वर्ष 1832 ई. में इक्वेडोर देश ने इस पर अपना अधिकार जमा लिया था।
  • गैलापैगस द्वीप समूह के महत्व का श्रेय यहाँ के प्राकृतिक जीव भण्डार को है, जिसमें वनस्पति तथा पशुओं की अनेकों दुष्प्राप्य जातियाँ मिलती हैं।
  • इन द्वीपों पर विशालकाय कछुए भी पाए जाते हैं, जिनमें से कुछ की आयु 300-400 वर्ष की हा चुकी है। इस प्रकार ये विश्व के प्राचीनतम जीवित प्राणी हैं।


पन्ने की प्रगति अवस्था
आधार
प्रारम्भिक
माध्यमिक
पूर्णता
शोध

टीका टिप्पणी और संदर्भ

  1. गैलापैगस (हिन्दी)। । अभिगमन तिथि: 10 अप्रैल, 2014।

संबंधित लेख

वर्णमाला क्रमानुसार लेख खोज

                              अं                                                                                                       क्ष    त्र    ज्ञ             श्र   अः



"https://bharatdiscovery.org/bharatkosh/w/index.php?title=गैलापैगस&oldid=609850" से लिया गया