मानक समय  

मानक समय वह समय है, जो किसी देश या विस्तृत भू-भाग के लोगों के व्यवहार के लिये स्वीकृत होता है। यह उस देश के स्वीकृत मानक याम्योत्तर के लिये स्थानीय माध्य समय होता है। हमारे अपने स्थानों के समय 'स्थानीय समय' कहलाते हैं। इनसे हमारी समय संबंधी स्थानीय आवश्यकता तो पूर्ण हो जाती है, किंतु ये अन्य स्थानों के लिये उपयोगी नहीं होते। इसीलिये 'मानक समय' की आवश्यकता पड़ती है।

  • मानक समय के प्रभाव में यातायात संचालन तथा देशव्यापी समय के कार्यक्रमों के संचालन नितांत कठिन हैं।
  • आजकल जिस प्रकार हमारा अपने देश के स्थानों से संबंध है, उसी प्रकार विश्व के अन्य देशों से भी है।
  • विश्वव्यापी व्यवहार को चलाने के लिये ग्रीनविच के माध्य समय को 'मानक समय' माना गया है।
  • ग्रीनविच से किसी भी स्थान के पूर्व या पश्चिम देशान्तर ज्ञात होने से हम अपने मानक समय से अन्य देशों का मानक समय ज्ञात कर सकते हैं।
  • भारत का मानक याम्योत्तर ग्रीनविच से 82.5° पूर्व है, जिसका अर्थ है कि हमारा मानक समय ग्रीनविच के मानक समय से साढ़े पाँच घंटे आगे है।
  • भारत में पूर्वी देशान्तर, जो कि इलाहाबाद के निकट नैनी से गुजरती है, के समय को मानक समय माना गया है।
  • यह समय ग्रीनविच समय से 5:30 घंटा आगे रहता है।
  • अतः जब ग्रीनविच में दोपहर के 12 बजे हों, तो उस समय भारत में शाम के 5:30 बजेंगे।


पन्ने की प्रगति अवस्था
आधार
प्रारम्भिक
माध्यमिक
पूर्णता
शोध

टीका टिप्पणी और संदर्भ

संबंधित लेख

वर्णमाला क्रमानुसार लेख खोज

                              अं                                                                                                       क्ष    त्र    ज्ञ             श्र   अः



"https://bharatdiscovery.org/bharatkosh/w/index.php?title=मानक_समय&oldid=236558" से लिया गया