कहावत लोकोक्ति मुहावरे-ए  

कहावत लोकोक्ति मुहावरे वर्णमाला क्रमानुसार खोजें

                              अं                                                                                              क्ष    त्र    श्र


कहावत लोकोक्ति मुहावरे अर्थ
1-एक पंथ दो काज अर्थ - एक काम के प्रयत्न से दो काम पूरे होना।
2- एक करेला/गिलोय, दूसरे नीम चढ़ा। अर्थ - एक दोष होने के साथ ही साथ दूसरा दोष भी होना।
3- एक अंडा वह भी गंदा। अर्थ - चीज़ भी थोड़ी है और जितनी है वह भी बेकार है।
4- एक आँख से रोवे, एक आँख से हँसे। अर्थ - दिखावटी रोना या दिखावटी काम करना।
5- एक अनार सौ बीमार। अर्थ - चीज़ का कम होना और चाहने वाले ज़्यादा होना।
6- एक आवे (आवाँ) के बर्तन। अर्थ - सब का एक जैसा होना जैसे कुम्हार के आवे (आवाँ) में सभी बर्तन एक जैसे ही पकते हैं।
7- एक और एक ग्यारह होते हैं। अर्थ - एकता में बल होता है।
8- एक के दूने से सौ के सवाये भले। अर्थ - अधिक लाभ पर कम माल बेचने की अपेक्षा कम लाभ पर अधिक माल बेचना अधिक फ़ायदेमंद होता है।
9- एक गंदी मछली सारे तालाब को गंदा कर देती है। अर्थ - एक बुरा आदमी सारी बिरादरी की बदनामी कराता है।
10- एक टकसाल के ढले। अर्थ - सबका एक जैसा होना।
11- एक तवे की रोटी, क्या छोटी क्या मोटी। अर्थ - कोई भी भेदभाव नहीं होना अर्थात् समानता का होना।
12- एक तो चोरी दूसरे सीना-जोरी। अर्थ - कोई अपराध करके अपराध न मानना और उल्टे रौब गाँठना।
13- एक (ही) थैली के चट्टे-बट्टे होना। अर्थ - एक ही जैसे दुर्गुण वाले होना।
14- एक मुँह दो बातें। अर्थ - अपनी बात से पलट जाना।
15- एक म्यान में दो तलवारें नहीं समा सकती। अर्थ - समान अधिकार वाले दो व्यक्ति एक ही क्षेत्र में नहीं रह सकते हैं।
16- एक हाथ से ताली नहीं बजती। अर्थ - झगड़े के लिए दोनों पक्ष ज़िम्मेदार होते हैं, एक के झगड़ा करने से झगड़ा नहीं होता है।
17- एक ही लकड़ी से सबको हाँकना। अर्थ - छोटे- बड़े का ध्यान न रखकर सबके साथ एक जैसा ही व्यवहार करना।
18- एकै साधे सब सधे, सब साधे सब जाय। अर्थ - एक समय में एक ही काम हाथ में लेना चाहिए, कई काम एक साथ करने से कोई काम सही नहीं होता है।
19- एक आँख से देखना। अर्थ - सबको बराबर समझना।
20- एक-एक नस पहचानना। अर्थ - सब कुछ समझना।
21- एक घाट का पानी पीना। अर्थ - एकता और सहनशील होना।
22- एक लकड़ी से सबको हाँकना। अर्थ - यथायोग्य व्यवहार न करना।
23- एक ही थैली के चट्टे-बट्टे। अर्थ - एक जैसे चरित्र और विचार के लोग।
24- एडि़याँ रगड़ना। अर्थ - बहुत दौड़-धूप करना।
25- एड़ी-चोटी का पसीना एक करना। अर्थ - घोर परिश्रम करना।

वर्णमाला क्रमानुसार लेख खोज

                              अं                                                                                                       क्ष    त्र    ज्ञ             श्र   अः



"https://bharatdiscovery.org/bharatkosh/w/index.php?title=कहावत_लोकोक्ति_मुहावरे-ए&oldid=624335" से लिया गया