गला भर्राना

भारत डिस्कवरी प्रस्तुति
यहाँ जाएँ:भ्रमण, खोजें

गला भर्राना एक प्रचलित लोकोक्ति अथवा हिन्दी मुहावरा है।

अर्थ- गला भर आना, किसी कारण आवाज़ न निकलना।

प्रयोग- मालती का गला भर्रा गया और उसने मुँह फेरकर रूमाल से आँसू पोछे। -प्रेमचंद


टीका टिप्पणी और संदर्भ

संबंधित लेख

कहावत लोकोक्ति मुहावरे वर्णमाला क्रमानुसार खोजें

                              अं                                                                                              क्ष    त्र    श्र